राजस्थान के स्पीकर को लगा सुप्रीम कोर्ट में झटका, सचिन पायलट गुट को मिली मोहलत

राजस्थान, 23 जुलाई: राजस्थान में चल रही सियासी खींचतान अभी थमनें का नाम नहीं ले रही है, सुप्रीम कोर्ट पहुंची राजस्थान के स्पीकर सीपी जोशी की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट ने आज सुनवाई की, सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी की है कि क्या चुने गए प्रतिनिधि अपनी असहमति नहीं जता सकते? अगर असहमति को दबाया जाएगा तो लोकतंत्र खत्म हो जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान हाई कोर्ट से कहा है कि वह 24 जुलाई को अपना आदेश पारित करें लेकिन आदेश सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निर्भर करेगा। सुप्रीम कोर्ट आगे की सुनवाई सोमवार को करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने हाई कोर्ट के फैसले पर रोक नहीं लगाई।

इस तरह से राजस्थान के स्पीकर और गहलोत गुट को झटका लगा है तो वहीँ और सचिन पायलट गुट को थोड़ी और मोहलत मिल गई है।

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने सिर्फ सचिन पायलट को उममुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर दिया बल्कि स्पीकर ने पायलट गुट के विधायकों को अयोग्यता का नोटिस भेज दिया, इसके बाद सचिन पायलट ने हाईकोर्ट का रुख किया। राजस्थान हाईकोर्ट ने 24 जुलाई तक अयोग्यता मामले की कार्रवाई करने पर रोक लगा दी थी

राजस्थान हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ राजस्थान के स्पीकर सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान हाई कोर्ट से कहा कि वह आदेश पारित करें और सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर हाई कोर्ट का फैसला निर्भर करेगा।

loading...