धमकी देकर फंसे गहलोत, गवर्नर ने खत लिखकर कहा- राजस्थान में कानून व्यवस्था खत्म हो गई है?

जयपुर, 24 जुलाई: आपसी लड़ाई में उलझे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्र को धमकी देकर अपने लिए ही मुसीबत खड़ी कर ली है, राज्यपाल ने मुख्यमंत्री गहलोत को चिट्ठी लिखकर कहा है कि राजस्थान में कानून व्यवस्था ख़त्म हो गई है।

दरअसल राजस्थान में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गवर्नर कलराज मिश्र पर दबाव बनाने की कोशिश की। विधायक राजभवन में धरनें पर बैठ गए लेकिन यह दांव गहलोत पर भारी पड़ गया।

पहले तो कॉन्ग्रेसी विधायकों को राजभवन से होटल लौटना पड़ा। उसके बाद राज्यपाल ने गहलोत को पत्र लिखकर राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर सवाल पूछा है। यह पत्र गहलोत की उस धमकी के विषय में लिखा गया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि यदि जनता राजभवन का घेराव कर लेती है तो हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी।

गवर्नर ने अपने पत्र में अशोक गहलोत से कहा है, इससे पहले कि मैं विधानसभा सत्र के संबंध में विशेषज्ञों से चर्चा करता, आपने सार्वजनिक रूप से कहा कि यदि राजभवन घेराव होता है तो यह आपकी जिम्मेदारी नहीं है। उन्होंने लिखा है, “अगर आप और आपका गृह मंत्रालय राज्यपाल की रक्षा नहीं कर सकता तो राज्य में कानून-व्यवस्था का क्या होगा? राज्यपाल की सुरक्षा के लिए किस एजेंसी से संपर्क किया जाना चाहिए? मैंने कभी किसी सीएम का ऐसा बयान नहीं सुना। क्या यह एक गलत प्रवृत्ति की शुरुआत नहीं है, जहाँ विधायक राजभवन में विरोध-प्रदर्शन करते हैं? पढ़िए राज्यपाल का पूरा पत्र!

Image

बता दें कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा था कि विधानसभा सत्र बुलाने के लिए हमने कल राज्यपाल को पत्र लिखा लेकिन ऊपर से दबाव के चलते हैं अभी तक राज्यपाल ने इस पर कोई नहीं दिया…

इसके बाद कांग्रेस नेता गहलोत ने राज्यपाल कलराज मिश्रा को खुली धमकी देते हुए कहा कि विधानसभा सत्र बुलानें की इजाजत दें वरना फिर हो सकता है कि पूरे प्रदेश की जनता अगर राजभवन को घेरनें आ गई तो हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी।