भारत की सरजमीं पर लैंड हुआ राफेल, राहुल गांधी ने दाग दिए मोदी सरकार पर ये 3 सवाल

नई दिल्ली, 29 जुलाई: राफेल लड़ाकू विमान आज भारत पहुँच गया, 5 राफेल विमानों का पहला जत्था फ्रांस से भारत पहुंच गया है। सभी पाँचों राफेल विमान अंबाला एयरबेस पर सुरक्षित लैंड हुए। पानी की बौछार से स्वागत किया, राफेल के आने से देश में ख़ुशी की लहर है तो वहीँ कांग्रेस ने फिर से राजनीति शुरू कर दी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर तीन सवाल दाग दिए हैं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनें ट्वीट में लिखा, रफ़ाल विमान के लिए भारतीय वायुसेना को बधाई। लेकिन क्या मोदी सरकार इन सवालों के जवाब देगी।

राहुल गांधी ने सरकार से पूछे तीन सवाल

1) प्रत्येक विमान की क़ीमत ₹526 करोड़ की बजाए ₹1670 करोड़ क्यों दी गयी?

2) 126 की बजाए सिर्फ़ 36 विमान ही क्यों ख़रीदे?

3) HAL की बजाए दिवालिया अनिल को ₹30,000 करोड़ का कांट्रैक्ट क्यों दिया गया?

आपको बता दें कि राहुल गांधी पहले भी राफेल की कीमतों और अनिल अम्बानी को ₹30,000 करोड़ का कांट्रैक्ट को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर रहे हैं. इससे पहले कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने अपनें ट्वीट में लिखा, ‘राफेल का भारत में स्वागत ! वायुसेना के जाबांज लड़ाकों को बधाई। उन्होंने आगे लिखा, आज हर देशभक्त यह ज़रूर पूछे कि 526 करोड़ रुपये का एक राफेल अब 1670 करोड़ रुपये में क्यों?

भारतीय वायु सेना के लिए ऐतिहासिक क्षणों के बीच बुधवार को राफेल लड़ाकू विमानों का पहला जत्था भारत पहुंच गया। फ्रांस से खरीदे गए ये राफेल लड़ाकू विमान अंबाला एयरबेस पर उतरे। रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक, जरूरत पड़ने पर राफेल विमान को भारत-चीन विवाद के बीच लद्दाख में एक हफ्ते के भीतर तैनात भी किया जा सकता है, आमतौर पर 6 महीनें लगते हैं तैयार होनें में। भारतीय वायु सेना के पायलट जिन्होंने राफेल विमान के उड़ान की ट्रेनिंग ली है वही विमान उड़ाकर लेकर भारत आ रहे हैं।

Sponsored Articles
loading...