बलात्कारी को बचानें के लिए महिला सब-इन्स्पेक्टर ने मांगी 35 लाख की रिश्वत, हुई गिरफ्तार

अहमदाबाद, 5 जून: जिसके कन्धों पर इंसाफ दिलानें की जिम्मेदारी हो अगर वही आरोपियों से सौदा कर ले तो पीड़िता को इंसाफ नहीं मिल सकता। जी हाँ! एक महिला सब-इन्स्पेक्टर गिरफ्तार हुई हैं, इनपर बलात्कार के आरोपी से रिश्वत मांगनें का आरोप है।

जानकारी के अनुसार, गुजरात के अहमदाबाद में SOG ने 35 लाख का रिश्वत लेने के आरोप में महिला पुलिस अधिकारी को हिरासत में ले लिया। आरोपी महिला पुलिस अधिकारी श्वेता जडेजा पर आरोप है कि उन्होंने प्रिवेंशन ऑफ ऐंटी-सोशल एक्टिविटीज (पीएएसए) के तहत मुकदमा दर्ज न करने के एवज में 35 लाख रुपये के रिश्वत की मांग की थी।

रिश्वत लेने की खबर से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। तुरंत आरोपी महिला सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया। जिसके बाद तीन दिन के लिए पुलिस ने अपने हिरासत में लिया है. पूछताछ जारी है।

क्या है पूरा मामला

पुलिस के मुताबिक, श्वेता जडेजा महिला वेस्ट पुलिस थाने की प्रभारी के तौर पर तैनात हैं। हाल ही में केनल शाह नाम के शख्स के खिलाफ रेप के मामले में एफआईआर दर्ज कराया गया था। जडेजा मामले की जांच कर रही थीं। कुछ समय पहले उन्होंने कथित तौर पर शाह को फोन किया और उन्हें पीएसए के तहत जेल में डाल देने की धमकी दी और 35 लाख का रिश्वत मांगा।

आरोपी महिला सब-इसंपेक्टर ने कहा कि अगर पैसा नहीं मिला तो आरोपी के खिलाफ वह कड़ी कार्रवाई करेगी। केनल के भाई मामले को सेटल करने के लिए पहुंचा। बताया जा रहा है 15 लाख रुपए श्वेता को मिल चुका था. बाकी पैसा बाद में देना था। लेकिन इस बीच आरोपी के भाई ने पुलिस में शिकायत दी थी. जिसकी जांच शुरू हुई तो कई शिकायत सही मिली। जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने श्वेता के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुख्ता सबूत मिलनें के बाद SOG ने महिला पुलिस अधिकारी श्वेता जडेजा को गिरफ्तार कर लिया और मामलें की जांच शुरू कर दी।