कानपुर काण्ड का पूरा खूनी खेल CCTV कैमरे में कैद है, लेकिन हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने दिखाई ये चालाकी

कानपुर, 5 जुलाई: गुरुवार और शुक्रवार की दरम्यानी रात कानपुर के बिकरू गाँव में दबिश देनें गई पुलिस पर कुख्यात बदमाश विकास दुबे और उसके साथी बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी। घंटों तक गोलियां तड़तड़ाती रही है। पुलिस को संभलने का मौका तक नहीं मिला। यूपी पुलिस के 8 जवान शहीद हो गए, वहीं पुलिस ने भी दो बदमाशों को मर गिराया।

ये सारी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है, ऐसी उम्मीद जताई जा रही है क्योंकि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का पूरा घर सीसीटीवी कैमरे से लैस था, लेकिन ये सीसीटीवी फुटेज पुलिस के चंगुल से उतनीं ही दूर है जितना दूर कुख्यात बदमाश विकास दुबे हैं, जी हाँ! विकास को फरार हुए 50 घंटों से ज्यादा का वक्त बीत चुका है लेकिन अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर है, कोई पता-जता नहीं है।

आपको बता दें कि 8 पुलिसवालों हत्यारे हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे ने अपने किलानुमा घर के चारो तरफ सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे। सीसीटीवी कैमरों को मोबाइल से कनेक्ट करके विकास घर के आसपास की हर एक गतिविधि पर नजर रखता था। घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों में दबिश के दौरान पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ का पूरा मंजर कैद हुआ होगा, लेकिन विकास दुबे इतना शातिर निकला कि डीवीआर अपनें साथ लेकर फरार हो गया ताकि पुलिस कोई सबूत न जुटा सके। पहले भी विकास दुबे अपराध करनें के बाद सबसे पहले सबूत मिटानें का काम करता था। ऐसी तरह-तरह की बातें निकलकर सामनें आ रही हैं।

सीसीटीवी कैमरों से जुड़ा जो डीवीआर लेकर विकास दुबे फरार हुआ है अगर ये पुलिस के हाथ लग जाता है तो घटना से जुड़े कई महत्वपूर्ण तथ्य सामनें आ सकते हैं जिससे इन्वेस्टिगेशन में थोड़ी आसानी होती लेकिन ये डीवीआर पुलिस के हाथ तभी लग सकता है जब विकास दुबे लगेगा। हो सकता है विकास दुबे सबूत मिटानें के लिए इस डीवीआर को तोड़ सकता है या कहीं छुपा सकता है। इसलिए विकास को गिरफ्तार करना ज्यादा जरुरी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना वाली रात को बदमाशों ने कैमरों पर गोली मारकर उसे तोड़ने का प्रयास किया लेकिन जल्दबाजी में उसपर निशाना नहीं लगा। क्योंकि बदमाशों वारदात को अंजाम देकर भागना भी था। पुलिस ने पूरे घर की तलाशी ली लेकिन सीसीटीवी कैमरों से जुड़ा डीवीआर नहीं मिला। फ़िलहाल विकास दुबे का पूरा घर पुलिस ने जमींदोज कर दिया।

Sponsored Articles
loading...