कानपुर काण्ड: सामनें आया कुख्यात बदमाश विकास दुबे और कांग्रेस नेता का कनेक्शन, तस्वीरें वायरल

शुक्रवार सुबह उत्तर प्रदेश के कानपुर से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई, जिसे सुनकर पूरा देश थर्रा गया। जिले के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी, इसमें सीओ बिल्हौर सहित 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं। एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गम्भीर घायल हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

विकास दुबे नाम के कुख्यात बदमाश और उसके साथियों ने छतों से पुलिस टीम पर गोलियां बरसाईं और हमले के बाद पुलिस के असलहे भी लूटकर फरार हो गए। इस घटना के बाद पूरे प्रदेश में सनसनी मच गयी।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की शहादत का जिम्मेदार विकास दुबे राजनीतिक सरपरस्ती में पला बढ़ा है, राजनीतिक गलियारों में अच्छी पकड़ है, पहले समाजवादी पार्टी के पोस्टर तले विकास दुबे की तस्वीरें वायरल हुई, फिर यूपी के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक के साथ विकास दुबे की तस्वीरें वायरल हुई और अब कांग्रेस नेता राजाराम पाल के साथ बदमाश विकास दुबे की तस्वीरें वायरल हो रही है।

वैसे तो तस्वीरों पर पूरे विश्वास के साथ सवाल नहीं उठाया जा सकता क्योंकि नेता लोग सेल्फी खिंचवा लेते हैं, भले ही उसे न जानते हों लेकिन यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक और हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर करके कांग्रेस योगी सरकार पर निशाना साध रही है।

ऑल इण्डिया महिला कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से ट्वीट में लिखा गया है, उत्तरप्रदेश सरकार के क़ानून मंत्री ब्रजेश पाठक और विकास दुबे एक साथ। इसका मतलब साफ़ है मुख्यमंत्री / गृह मंत्री आदित्यनाथ जी के क़ानून मंत्री को हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे का संरक्षण मिला हुआ है। 8 पुलिस जवानों के मृत्यु की ज़िम्मेदार सिर्फ योगी सरकार है! बताते चलें कि पहले यूपी कांग्रेस के ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से भी ब्रजेश पाठक और विकास दुबे की तस्वीर शेयर की गई थी, हालाँकि अब खुद कांग्रेस नेता राजाराम पाल के साथ विकास दुबे की तस्वीरें वायरल हुई तो कांग्रेस ने चुप्पी साध ली और ट्वीट डिलीट कर दिया।

बता दें कि कांग्रेस नेता राजराम पाल कई बार सांसद और कई बार विधायक रह चुके हैं, प्रियंका गांधी ने आज यानि शनिवार ( 4 जुलाई 2020 ) को यूपी की खराब कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस नेताओं के साथ मीटिंग की, इस मीटिंग में राजाराम पाल भी मौजूद रहे और यही राजाराम पाल कुख्यात बदमाश विकास दुबे के साथ तस्वीरों में दिख रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, कांग्रेस नेता राजाराम पाल कानपुर देहात से सांसद रहे हैं और गैंगस्टर विकास दुबे से इनका करीबी और अच्छा रिश्ता रहा है।

बता दें कि कानपुर के राहुल तिवारी नाम के व्यक्ति ने 307 का एक मुकदमा विकास दुबे के ऊपर दर्ज कराया है। इस पर दबिश डालने के लिए एक बड़ी पुलिस टीम विकास के घर पहुंची। पुलिस को रोकने के लिए बदमाशों ने पहले से ही जेसीबी वगैरा लगा कर के रास्ता रोक रखा था। पुलिस पार्टी के पहुंचते ही बदमाशों ने छतों से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी जिसमें पुलिस के 8 लोग शहीद हो गए। पुलिस ने भी मौके पर दो बदमाशों को मार गिराया। एक विकास दुबे का मामा था। विकास दुबे की तलाश की जा रही है।

Sponsored Articles
loading...