कानपुर शूटआउट: जान बचानें के लिए घर में छिपे सीओ के सिर पर बदमाशों ने मारी गोलियां, पैर भी काटा

कानपुर, 4 जून: कानपुर शूटआउट काण्ड ने पूरे देश-प्रदेश को हिला कर रख दिया, अब इससे जुड़े नए तथ्य सामनें आ रहे हैं। कुख्यात बदमाश विकास दुबे और उसके साथी बदमाशों ने सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्रा को बहुत ही बर्बर तरीके से मारा।

इंसान के वेश में शैतान का रूप धारण कर चुके बदमाशों ने सीओ के सामनें ही कई सिपाहियों को मौत के घाट उतारा। फिर सीओ पर हमला किया, वह दीवार फांदकर एक घर में जाकर छिपे थे। बदकिस्मती से ये घर बदमाश विकास दुबे के मामा प्रेमप्रकाश पांडेय का था।

Image

घर में सीओ के छिपे होनें की जानकारी पाकर आठ-दस बदमाश घर में घुसे और सीओ का सिर दीवार से सटाकर बिल्कुल नजदीक से सिर पर कई गोलियां मारी। यही नहीं बदमाशों ने घसीटकर सीओ को बाहर लाया और एक पैर भी काट दिया।

पांच शव एक के ऊपर एक रखे मिले

शिवराजपुर एसओ महेश यादव गोली लगते ही गिर गए, इसके बाद बदमाश वहां पहुंचे और औंधे मुंह गिरे महेश की पीठ पर दर्जनों गोलियां दागी। इसके बाद शव को सिपाहियों के शव के ऊपर लाद दिया, पुलिस को मौके पर पांच शव एक के ऊपर एक रखे मिले।

गौरतलब है कि बदमाशों को दबिश की पूरी जानकारी थी। इसलिए पूरी तैयारी के साथ असलहा लेकर छतों पर बैठे थे और पुलिसवालों का इन्तजार कर रहे थे। विकास दुबे ने घर से ठीक बीस मीटर दूर सड़क के बीचोबीच जेसीबी खड़ी करवाई थी ताकि पुलिसवालों की गाडी सीधा प्रवेश न कर सके। जैसे ही पुलिस की गाडी पहुंची। पुलिसवाले उतरे बदमाशों ने तत्काल ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी। पुलिसवालों को संभलने का मौक़ा तक नहीं मिला।

बता दें कि कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी, इसमें सीओ बिल्हौर सहित 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं। एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गम्भीर घायल हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कानपुर के राहुल तिवारी नाम के व्यक्ति ने 307 का एक मुकदमा विकास दुबे के ऊपर दर्ज कराया है। इस पर दबिश डालने के लिए एक बड़ी पुलिस टीम गुरुवार की दरम्यानी रात को विकास के घर पहुंची। पुलिस को रोकने के लिए बदमाशों ने पहले से ही जेसीबी वगैरा लगा कर के रास्ता रोक रखा था। पुलिस पार्टी के पहुंचते ही बदमाशों ने छतों से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी जिसमें पुलिस के 8 लोग शहीद हो गए। पुलिस ने भी मौके पर दो बदमाशों को मार गिराया। एक विकास दुबे का मामा था।

Sponsored Articles
loading...