गुना लाठीचार्ज: असली गुनहगार निकला दिग्विजय सिंह का करीबी गब्बू पारदी, दर्ज हैं 40 मुकदमें

गुना, 18 जुलाई: हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, वीडियो मध्यप्रदेश के गुना का था जहाँ कुछ पुलिसवाले मिलकर किसान की बेरहमी से पिटाई कर रहे थे, मेनस्ट्रीम मीडिया द्वारा बताया गया कि जमीन पर कब्जा हटानें गई पुलिस ने वहां खेती कर रहे है किसान कि बर्बरता से पिटाई की. वीडियो सामनें आने के बाद देशभर में हंगामा मच गया; कांग्रेस पार्टी शिवराज सरकार पर हमलावर हो गई।

गुना लाठीचार्ज का वीडियो तो सामनें आया लेकिन असली गुनह्गार का चेहरा सामनें नहीं आया और वो चेहरा है गब्बू पारदी, जानकरी के अनुसार, गब्बू पारदी कांग्रेस का पार्षद होनें के साथ-साथ कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह का करीबी भी है, गब्बू पारदी वो भूमाफिया है जिसे ‘किसान’ बताया गया, जिसपर दर्जनों गम्भीर धाराओं में मुकदमे हैं, जिसने सरकारी स्कूल की ज़मीन पर क़ब्ज़ा किया। अब सवाल यह उठा है इसमें किसान कौन है? ये तो भू-माफिया है।

वैसे जिस गरीब दलित महिला को मोहरा बना कर दिग्विजय के करीबी ‘गब्बू पारदी’ ने भ्रमजाल रचा उस पर पुलिस द्वारा किया गया लाठीचार्ज ग़लत था, अलोकतांत्रिक था, निंदनीय था और उसकी सजा अफ़सरों को दी गयी। पर ‘लाठीचार्ज’ की आड़ में क्या ‘गब्बू पारदी’ को ज़मीन पर क़ब्ज़ा कर लेने का हक़ है? वो भी सरकारी ज़मीन जिसपर स्कूल बनाया जाना है।

अगर आज ‘ग़रीबी’ का इस्तमाल कर भू-माफ़ियाओं को सरकारी ज़मीन पर क़ब्ज़ा करने के लिए छोड़ दिया गया तो कल ये फ़ैशन बन जाएगा। कोई भी गरीबों का इस्तेमाल करके ऐसा करेगा। जानकारी के अनुसार, उस महिला को कीटनाशक खाने के लिए उकसाने के बाद गब्बू के लोगों ने उसे अस्पताल ले जाने में भी अवरोध पैदा किया। दोनों तरफ की सच्चाई सामने आनी चाहिए। लेकिन गब्बू पारदी की सच्चाई अभी तक खुलकर सामनें नहीं आ रही है। ( साभार भैयाजी ट्वीट)

गुना में कॉलेज की जमीन अतिक्रमण को लेकर पुलिसकर्मियों द्वारा एक दलित दंपत्ति को पीटे जाने की घटना को अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए मध्य प्रदेश भाजपा अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य सरकार ने इस मामले में गंभीरता से कार्रवाई की है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस जमीन पर अतिक्रमण कांग्रेस के कार्यकर्ता गब्बू पारदी ने किया है और वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का करीबी है।

पारदी एवं दिग्विजय सिंह के बीच करीबी संबंध होने का आरोप लगाते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा, दिग्विजय सिंह एवं गब्बू पारदी का क्या कनेक्शन है? और कॉलेज के जो ठेकेदार हैं, इन सब लोगों में गब्बू पारदी है। वह आदतन अपराधी है, उसके ऊपर 40 मुकदमे दर्ज हैं और वह कांग्रेस का कार्यकर्ता है। शर्मा ने कहा, इसकी (गब्बू पारदी की) दिग्विजय सिंह के साथ क्या भूमिका है? इसको लेकर मैंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी को पत्र लिखा है। इस घटनाक्रम की जांच गंभीरता के साथ होनी चाहिए।