चीन को मिलनें लगी उसके पापों की सजा, टूटा कोरोना से भी बड़ा कहर, 80 साल में सबसे भयानक बाढ़!

बीजिंग, 15 जुलाई: चीन के वुहान शहर से फैला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में कहर बरपा रहा है लेकिन वुहान में कोरोना का कहर अचानक ख़त्म हो गया, उसके बाद आरोप लगनें लगे कि चीन ने दुनिया को बर्बादी के मंजर में धकेलनें के लिए जानबूझकर कोरोना फैलाया। शक की सुइयां उस समय और मजबूत हो गयी जब अमेरिका समेत कई देशों ने जांच करानें की मांग की लेकिन चीन जांच के लिए राजी ही नहीं हुआ। चीन को अब इन्ही सब पापों की सजा मिलनी शुरू हो गई है।

80 साल में सबसे भयानक बाढ़
दुनियाभर में कोरोना वायरस फैलानें वाले चीन पर अब कोरोना से भी बड़ा कहर टूट पड़ा है, चीन में इतनी भयानक बाढ़ आई है कि तमाम विकसित शहर जलमग्न हो गए हैं। बीते 80 सालों में चीन ने इतनी भयानक बाढ़ कभी नहीं देखी थी, लेकिन अब देखना पड़ रहा है।

सड़कों पर चल रही नाव, जनजीवन अस्त-व्यस्त
चीन में आई भयानक बाढ़ का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग अब सड़कों पर नाव लेकर निकल रहे हैं, सड़कों पर खड़ी हुई कारें पूरी तरह पानी में डूबी हुई नजर आ रही है, जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, चीन के विकसित शहर वुहान, हुबेई जैसे प्रांतों में जहाँ तक देखो अब सिर्फ पानी ही पानी दिखाई दे रहा है।

चीन को बाढ़ से 8 अरब डॉलर से भी ज्यादा का हुआ नुकसान
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाढ़ को काबू करनें के लिए मिटटी की स्थाई दीवारें भी बनाई जा रही हैं, इस भयानक बाढ़ से अब तक चीन को 8 अरब डॉलर से भी ज्यादा नुकसान हो चुका है, ये आंकड़ा तेज रफ़्तार से बढ़ता ही जाएगा। क्यूंकि बाढ़ पार जल्द आसानी से काबू पाना आसान नहीं है, चीन के तमाम शहरों के बड़े पर्यटक स्थल बाढ़ की चपेट में आ गए हैं जो आय का अच्छा-ख़ासा जरिया था।

जून से ही शुरू हुई है बरसात
चीन में इस साल जून महीनें से ही मूसलाधार बरसात हो रही है, जो अभी जारी है, भयानक बाढ़ की वजह से चीन में अबतक 140 लोगों की मृत्यु हो चुकी है जबकि बहुत से लोग लापता हैं।

Sponsored Articles
loading...