महाराष्ट्र में काल बना कोरोना, अबतक 8000 से ज्यादा की मौत, 1,80,298 लोग संक्रमित

महाराष्ट्र, 1 जुलाई: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण महाराष्ट्र में दिन-प्रतिदिन स्थिति बदतर होती चली जा रही है। महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या डेढ़ लाख के पार पहुँच चुकी है। राज्य में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के रिकॉर्ड 5,537 नए मामले सामने आए, जबकि 198 लोगों की मौत हो गई, इसके साथ ही राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर एक लाख के पार 1,80,298 पहुँच गयी है, इस खतरनाक वायरस से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 8,053 हो गया है।

बता दें कि 1,80,298 कोरोना मरीजों में से 93,154 मरीज कोरोना की जंग जीतकर अपने घर जा चुके हैं जबकि 79,075 लोग अभी भी कोरोना वायरस से जंग लड़ रहे हैं। भगवान करें जल्द ये भी कोरोना से जंग जीतकर सकुशल अपनें घर पहुंचे।

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के कारण मृत्यु दर बढ़ता जा रहा है और अधिकारियों के पास इस मुद्दे पर कुछ कहने के लिए जवाब ही नहीं है। कभी मरीजों को देर से अस्पताल में भर्ती करना बता दिया जाता है, कभी अलग स्ट्रेन बढ़ते मामलों की वजह बता दी जाती है। कोई भी एक वजह पर टिका नहीं है।

देशभर में कोरोना वायरस के मामले में महाराष्ट्र पहले पायदान पर है, राज्य में तीन पार्टियों शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी की सरकार चल रही है इसके बावजूद कोरोना के मामलें थमने का नाम नहीं ले रे हैं। बता दें की, कोरोना के मामलें में महाराष्ट्र चीन से भी आगे निकल चुका है. जिस हिसाब से महाराष्ट्र में कोरोना का आंकड़ा बढ़ रहा है, देखकर लगता है की आने वाले दिनों में स्थिति और भयावह हो सकती है. सबसे ज्यादा केस देश की वित्तीय राजधानी मुंबई से आ रहे हैं. मुंबई से रोजाना एक हजार से ज्यादा कोरोना केस आ रहे हैं।

Sponsored Articles
loading...