कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और 1 करोड़ मुवावजा देगी योगी सरकार

कानपुर, 3 जुलाई: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिवार को एक सरकारी नौकरी और एक करोड़ रूपये मुवावजा देनें का ऐलान किया है।

सीएम योगी ने कहा कि शहादत की कोई कीमत नहीं होती लेकिन यूपी सरकार अपने इन शहीद जवानों के परिजनों के साथ में पूरी मजबूती से खड़ी है। शहीदों के परिवार के एक सदस्य को शासकीय सेवा में लेने के साथ ही सरकार असाधारण पेंशन भी उपलब्ध कराएगी। प्रत्येक शहीद परिवार को आर्थिक सहायता के रूप में अतिरिक्त ₹01 करोड़ सरकार की ओर से उपलब्ध कराए जाएंगे।

सीएम योगी ने कहा कि मैं पुन: इस बात के लिए आश्वस्त करता हूं कि जिन लोगों ने भी इस घटना को अंजाम दिया है, प्रदेश सरकार कानून के दायरे में लाकर उन्हें कठोरतम सजा दिलाने का कार्य करेगी। जिन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है, इस घटना के लिए जो भी जिम्मेदार पाया जाएगा, कानूनन वह व्यक्ति इस घटना की सजा भी भुगतेगा। मैं इस बात का विश्वास दिलाता हूं कि हमारे जवानों का यह बलिदान किसी भी स्थिति में व्यर्थ नहीं जाएगा।

इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मैंने परिजनों को इस बात के लिए आश्वस्त किया है कि इस दुःख की घड़ी में हम उनके साथ हैं। जवानों ने जिस मजबूती के साथ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है, उसके लिए उनके कर्तव्यों के प्रति हम सबकी विनम्र श्रद्धांजलि है।

बता दें कि गुरुवार रात को कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची पुलिस टीम पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी, इसमें सीओ बिल्हौर सहित 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं। एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गम्भीर घायल हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। विकास दुबे नाम के कुख्यात बदमाश और उसके साथियों ने छतों से पुलिस टीम पर गोलियां बरसाईं और हमले के बाद पुलिस के असलहे भी लूट ले गए।

कानपुर के राहुल तिवारी नाम के व्यक्ति ने 307 का एक मुकदमा विकास दुबे के ऊपर दर्ज कराया है। इस पर दबिश डालने के लिए एक बड़ी पुलिस टीम गुरुवार की दरम्यानी रात को विकास के घर पहुंची। पुलिस को रोकने के लिए बदमाशों ने पहले से ही जेसीबी वगैरा लगा कर के रास्ता रोक रखा था। पुलिस पार्टी के पहुंचते ही बदमाशों ने छतों से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी जिसमें पुलिस के 8 लोग शहीद हो गए। पुलिस ने भी मौके पर दो बदमाशों को मार गिराया। एक विकास दुबे का मामा था।

Sponsored Articles
loading...