कफील खान और आजम खान को मिल रही मुसलमान होने की सजा, योगी सरकार रिहा करे: चंद्रशेखर रावण

लखनऊ, 6 जुलाई: आजाद समाज पार्टी और भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर रावण ने योगी सरकार से डॉ कफील खान और सपा नेता आजम खान को रिहा करनें की मांग की है। चंद्रशेखर ने कहा कि राजनीति में वैचारिक मतभेद होना लोकतंत्र की मजबूती होती है लेकिन योगी सरकार ने राजनीतिक रंजिश के चलते आजम खान जी को जेल में कैद किया हुआ है।

चंद्रशेखर आजाद उर्फ़ रावण ने अपनें ट्वीट में लिखा – मासूमों की जान बचाने वाले जिस डॉ. कफ़ील पर देश को फ़क्र है, योगी जी उसे राष्ट्र की सुरक्षा के लिए खतरा मानते हैं। CAA, NRC का विरोध करना उनका गुनाह है या संविधान की वकालत करना या फिर एक मुसलमान होना?

दूसरे ट्वीट में भीम आर्मी प्रमुख ने लिखा, राजनीति में वैचारिक मतभेद होना लोकतंत्र की मजबूती होती है लेकिन योगी सरकार ने राजनीतिक रंजिश के चलते आजम खान जी को जेल में कैद किया हुआ है। सरकार अपनी साम्प्रदायिक सोच से बाहर निकले और उन्हें रिहा करे। मत भूलिए कि सरकारें बदलती रहती है।

बता दें कि कफील खान पर पिछले साल 12 दिसंबर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण देने का आरोप है। उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (यूपी एसटीएफ) ने कफील को जनवरी में मुंबई से गिरफ्तार किया था। कफील खान पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून ( NSA ) लगा हुआ है। वहीँ समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान पर कई मुकदमें दर्ज हैं, जिसकी वजह से जेल में बंद हैं।

Sponsored Articles
loading...