भारत के बाद अब अमेरिका और आस्ट्रेलिया करेगा चीन पर डिजिटल स्ट्राइक, तबाह हो जाएगा चीन

नई दिल्ली, 7 जुलाई: लद्दाख में लाइन ऑफ़ एक्चुअल कंट्रोल ( LAC ) पर पिछले कई हफ़्तों से भारत और चीन के बीच तनातनी चल रही है। बॉर्डर पर भारतीय सेना चीनी सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब दे रही है दूसरी तरफ भारत सरकार ने भी चीन पर डिजिटल स्ट्राइक करते हुए टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर पाबन्दी लगा दी।

चीन सोच रहा था की वो वायरस फैलाएगा, अपने पडोसी देशों को अपनी कागजी सेना दिखाकर डराएगा और उनकी जमीने हड़प लेगा और कोई देश उसके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करेगा। ये सोंच अब चीन को काफी पड़ रही है। भारत इसकी शुरू कर चुका है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले भारत सरकार ने 59 चीनी एप्स पर प्रतिबन्ध लगा दिया था, इन एप्स में सबसे बड़ा नाम टिक-टॉक का था, भारत की इस डिजिटल स्ट्राइक से चीन को सैकड़ों अरब का नुकसान हुआ, खुद चीनी सरकार के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने इसका खुलासा किया।

भारत के बाद अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया भी चीन पर डिजिटल स्ट्राइक करनें की तैयारी कर रहे हैं, अर्थात टिक-टॉक समेत सभी चीनी एप्स पर पाबन्दी। आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री सकॉट मॉरिसन ने कहा है की उनकी सरकार चीनी एप्स को रिव्यु कर रही है, विदेश मामलों के जानकारों का मानना है कि किसी भी वक्त ऑस्ट्रेलिया टिक-टॉक समेत कई चाइनीज ऐप बैन करनें का ऐलान कर सकता है।

भारत और आस्ट्रेलिया के बाद अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा है कि उनकी सरकार भी टिक-टॉक को बैन करेगी, मसलन कुछ ही समय में अमेरिका में भी टिक-टॉक बैन करनें की ख़बरें आ सकती है. अगर भारत की तरह अमेरिका और आस्ट्रेलिया ने टिक-टॉक को बैन कर दिया तो चीन को बहुत बड़ा आर्थिक नुकसान होगा। इकॉनमी पर अच्छा-ख़ासा असर पड़ेगा।

loading...