अशोक गहलोत ने सचिन पायलट को बताया बिकाऊ, कहा- हमारे पास सबूत हैं, पायलट खरीद-फरोख्त कर रहे थे

sachin-pilot-become-crore-pati-after-selecting-as-rajastha-deputy-cm

जयपुर, 15 जुलाई: कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट को मंत्रिपद और प्रदेश अध्यक्ष पद से बर्खास्त कर दिया। पायलट की बर्खास्तगी के बाद अब कांग्रेस नेता और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान आया है, गहलोत ने सीधे तौर पर सचिन पायलट को बिकाऊ बता दिया और कहा कि मेरे पास इसके सबूत भी हैं।

सचिन पायलट पर हमला बोलते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि, हॉर्स ट्रेडिंग हो रही है, मेरे पास सबूत हैं। उन्होंने कहा कि जो हमारे साथ नहीं हैं वो पैसे ले चुके हैं। गहलोत ने कहा कि हमारे विधायकों को पैसों का लालच दिया जा रहा है। इसके बाद गहलोत ने कहा कि, खरीद-फरोख्त में उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट खुद शामिल थे।

बता दें कि उपमुख्यमंत्री पद और प्रदेश अध्यक्ष पद से बर्खास्त होनें के बाद सचिन पायलट ने एक इंटरव्यू में कहा कि, हमनें चुनाव में जनता से बहुत सारे वादे किये थे लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद अशोक गहलोत ने कुछ नहीं किया। इसके अलावा सचिन पायलट ने कहा कि अफसरों को भी उनके ( सचिन पायलट ) का आदेश नहीं मानने का ऑर्डर था। सचिन पायलट ने कहा, ऐसे पद का क्या फायदा जब जनता के किए वादे पूरे न कर सकें।

गौरतलब है कि सचिन पायलट राजस्थान की गहलोत सरकार के लिए खतरे की घंटी बजाकर 20 विधायकों के साथ दिल्ली चले आये थे, हालाँकि सचिन पायलट के बगावती तेवर से गहलोत सरकार को कोई नुक्सान नहीं हुआ। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दावा किया है कि उनके साथ 109 विधायक हैं सरकार को कोई खतरा नहीं है।

अब माना जा रहा है कि सचिन पायलट अपनी नई पार्टी का ऐलान कर सकते हैं या कुछ दिनों तक विक्टिम कार्ड खेलेंगें। सचिन पायलट के साथ 20 विधायक भी हैं जो भाजपा में नहीं जाना चाहते हैं शायद इसी को देखते हुए पायलट ने भी भाजपा नहीं ज्वाइन करनें का ऐलान कर दिया। पायलट ने कहा है कि आगे की रणनीति का विचार करेंगें।

Sponsored Articles
loading...