महाराष्ट्र: भाजपा के इस अभियान से भड़के HM देशमुख, साईबर सेल को दिया कड़ी नजर रखनें का आदेश

महाराष्ट्र भाजपा आईटी सेल ने व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से राज्य में करोड़ों मतदाताओं को जोड़ने के लिए एक अभियान शुरू किया है। भाजपा के इस अभियान से महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख भड़क गए हैं और साइबर जेल को कड़ी नजर रखनें का निर्देश दिया है।

एनसीपी नेता और महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में गृहमंत्री अनिल देशमुख ने ट्वीट कर कहा कि व्हॉट्सऐप पर नागरिकों के साथ जुड़ने में कोई बुराई नहीं है और मुझे उम्मीद है कि व्हाट्सएप्प यूनिवर्सिटी में इस अभियान के परिणाम का रिजल्ट नहीं होगा। देशमुख ने साइबर सेल को निर्देश देते हुए आगे लिखा, यदि वे ( भाजपा ) लोगों को गुमराह करनें और अफवाह फैलानें के लिए व्हाट्सएप्प समूहों ( ग्रुप ) का इस्तेमाल करते हैं तो महारष्ट्र साइबर सेल इन व्हाट्सअप्प समूहों पर कड़ी नजर रखें।

गृहमंत्री अनिल देशमुख के ट्वीट को रीट्वीट को करते हुए महाराष्ट्र भाजपा ने कहा कि आदरणीय गृहमंत्री जी भाजपा का यह अभियान खुला और पारदर्शी है, यदि आप राष्ट्रवादी विचार रखते हैं और महाराष्ट्र की देखभाल करना चाहते हैं तो आप भी हमारे अभियान में शामिल हो सकते हैं।

जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र भाजपा आईटी सेल व्हाट्सएप ग्रुप के माध्यम से राज्य में करोड़ों मतदाताओं को जोड़ने के लिए एक अभियान शुरू किया है। अगले दो-तीन हफ्तों में, 98,000 व्हाट्सएप ग्रुप पूरे राज्य में काम करेंगे। इसका उपयोग स्थानीय निकाय चुनावों के साथ-साथ आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनावों के लिए मतदाताओं के संपर्क में बने रहने के लिए किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अगुवाई में सोमवार को भाजपा के नवनियुक्त पदाधिकारियों की बैठक हुई, इस बैठक में जेपी नड्डा ने आईटी सेल के काम में तेजी लानें का आदेश दिया, नड्डा ने कहा कि वर्तमान में 67,000 ग्रुप काम कर रहे हैं, लेकिन व्हाट्सएप समूह को सक्रिय करने का काम उम्मीद से कम है इसे और बढ़ाया जाना चाहिए। इसके बाद महाराष्ट्र भाजपा ने व्हाट्सएप्प के माध्यम से लोगों से जुड़ने का अभियान शुरू किया है।