दुस्साहस: पहले भगवा का मजाक उड़ाया, फिर अनस कुरैशी ने शिवमंदिर के साधु की कर दी हत्या

मेरठ, 15 जुलाई: महाराष्ट्र के पालघर से शुरू हुआ साधुओं की ह्त्या का मामला थमनें का नाम नहीं ले रहा है, ताजा मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ से आया है जहाँ शिवमंदिर के एक साधू की बेरहमी से पीट-पीटकर ह्त्या कर दी गई, साधु की ह्त्या का आरोप अनस कुरैशी पर लगा है, इस पूरे प्रकरण में पुलिस का कहना है कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार, मेरठ के भावनपुर में अब्दुलापुर नामक एक बाजार है और वहां पर एक शिव मंदिर हैं। मंदिर में ही गांव के कांति प्रसाद की दुकान थी और वह मंदिर कमिटी के उपाध्यक्ष भी थी। वह मंदिर की साफ-सफाई के साथ पुजारी का काम भी देखते थे।

बताया जा रहा है कि कांतिप्रसाद गले में भगवा रंग का गमछा डालते थे और पीले रंग के कपड़े पहनते थे। सोमवार को कांति गंगानगर में बिजली का बिल जमा करने गए थे। आरोप है कि लौटते समय ग्लोबल सिटी के पास गांव के ही अनस कुरैशी ने कांति के भगवा गमछे को लेकर कथित धार्मिक टिप्पणी की और मजाक बनाया।

अनस के मजाक करने का कांति ने विरोध किया, जिसके बाद दोनों के बीच बहस हो गई। आरोप है कि अनस ने कांति की सड़क पर ही जमकर पिटाई की और भाग गया। वहां से कांति किसी तरह गांव पहुंचे और अनस के घर जाकर उसकी हरकत की शिकायत की।

कांति अनस के घर पर थे तभी पीछे से वह आ गया। आरोप है कि अनस ने एक बार फिर से अपने घरवालों के साथ मिलकर कांति की फिर से जमकर पिटाई की और वहां से बाइक लेकर भाग गया। कांति के परिजनों को जब उनकी पिटाई की सूचना मिली तो वे लोग उन्हें लेकर थाने पहुंचे। यहां उनकी हालत बिगड़ गई।

घरवालों कांति को लेकर अस्पताल पहुंचे जहां मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान कांति की मौत हो गई। कांति प्रसाद की तहरीर पर पुलिस ने अनस के खिलाफ धार्मिक टिप्पणी करने, मारपीट और जान से मारने की धमकी देने के मामले में एफआईआर दर्ज कर ली। कांति की मंगलवार को मौत हुई।

Sponsored Articles
loading...