प्ले स्टोर से हटाया गया टिक-टॉक, लोग बोले- टिक-टॉक पर मुजरा करनें वाले टिकटकिये अब क्या करेंगें

नई दिल्ली, 30 जून: भारत सरकार ने सोमवार (29 जून 2020 ) देर रात को टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर बैन लगा दिया। इसके बाद अब टिक-टॉक को प्ले स्टोर से भी हटा दिया गया है। अब नए यूजर टिक-टॉक डाउनलोड नहीं कार पायेंगें। जिनके फोन में पहले से टिक-टॉक ऐप मौजूद है वो अपडेट नहीं कर पायेंगें। अपडेट न होनें की स्थिति में ऐप काम करना बंद कर देगा।

टिक-टॉक बैन होनें के बाद लोग उन लोगों के बारें में सोंच रहे हैं जो टिक-टॉक पर नाचते-कूदते थे। लोगों का कहना है कि टिक-टॉक पर मुजरा करनें वाले टिकटकिये अब क्या करेंगें। अब टिक-टॉक वालों को कोई नया रोजगार तलाशना चाहिए।

भारत में टिक-टॉक बैन होनें के बाद लोग बहुत खुश नजर आ रहे हैं । आधे से ज्यादा टिक-टॉक यूजर भी खुश हैं। अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ख़ुशी का इजहार कर रहे हैं। अंत में टिक-टॉक के लिए RIPशब्द का भी प्रयोग कर रहे हैं।

आईटी मंत्रालय की रिपोर्ट में कहा गया है कि बैन किये गए ऐप्स कुछ ऐसी गतिविधियों में संलिप्त हैं जो भारत की रक्षा, ​सुरक्षा और पब्लिक की संप्रुभता और अखंडता के लिए हानिकारक है, इसलिए इन्हें भारत में बैन कर दिया गया। गौरतलब है कि भारत में टिक-टॉक समेत सभी चाइनीज एप्स यूज करनें वालों का डेटा सीधा चाइना जाता था। चीन उस डेटा का क्या करता था कोई पता नहीं रहता था। इन अप्स से चीन की अच्छी खासी कमाई भी होती थी लेकिन भारत ने सोमवार को चीन पर डिजिटल स्ट्राइक कर दी।

loading...