इस बात से नाराज होकर सुशांत सिंह ने अपनें नाम के आगे से हटा लिया था ‘राजपूत’

मुंबई, 14 जून: बॉलीवुड के युवा अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार ( 14 जून 2020 ) को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 34 वर्षीय सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गयी। हर कोई ये खबर सुनकर स्तब्ध रह गया की सुशांत सिंह राजपूत ने आखिर इतनी छोटी उम्र में ऐसा कदम क्यों उठा लिया।

हालाँकि एक ऐसा भी दौर आया था जब सुशांत सिंह ने छोटी सी बात पर नाराज होकर अपनें नाम के आगे से राजपूत शब्द हटा लिया था और कहा था मुझे राजपूत होनें पर शर्म आती है।

मालूम हो की आज से 2 साल पहले साल 2018 में संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती आयी थी, इस फिल्म का राजपूत समेत कई हिन्दू संगठनों ने जमकर विरोध था किया था, आरोप था की इस फिल्म में इतिहास के साथ छेड़छाड़ की गई है, लोगों के मन में गलत सन्देश जाएगा।

बता दें की सुशांत सिंह राजपूत ने उस समय पद्मावत फिल्म का समर्थन किया था और विरोध करनें वाले राजपूत संगठनों की न सिर्फ आलोचना की थी बल्कि अपनें नाम के आगे से राजपूत शब्द हटा लिया था. सुशांत सिंह राजपूत ने संजय लीला भंसाली पर हुए हमले और सेट पर हुई तोड़फोड़ के बाद ये कदम उठाया था, सुशांत के इस कदम का राजपूत संगठनों ने भी जमकर विरोध किया था।

संजय लीला बंसाली की देखरेख में बनी फिल्म में दीपिका पादुकोण ने पद्मावती, शाहिद कपूर ने राजा रतन सिंह और रणवीर सिंह ने अलाउद्दीन खिलजी का रोल अदा किया था. पहले इस फिल्म का नाम पद्मावत था, लेकिन विरोध के बाद नाम बदलकर पद्मावती किया गया और २७ कट के बाद ये फील रिलीज हुई थी।

बता दें की सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के बांद्रा स्थित अपनें घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की, लेकिन अभी आत्महत्या की वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है, प्रथम दृष्टया आत्महत्या का कारण मानसिक तनाव माना जा रहा है।

loading...