SP प्रवक्ता ने लगाये संगीन इल्जाम, कहा- ब्राह्मण होनें कारण सपा नेता कर रहे अश्लील टिप्पणियां

लखनऊ, 8 जून: देश-प्रदेश में जारी कोरोना वायरस कहर के बीच समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता डॉ रोली तिवारी मिश्रा ने अपनी ही पार्टी नेताओं पर संगीन इल्जाम लगाए हैं, सपा प्रवक्ता डॉ रोली ने ट्वीट कर जानकारी दी है की, ब्राह्मण होनें के कारण सपा नेता उनके खिलाफ अश्लील टिप्पणियां करते हैं, न्याय के लिए उन्होनें समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से गुहार लगाई है। गौरतलब है की आज से तकरीबन 2 साल पहले पंखुड़ी पाठक ने इसी तरह का आरोप लगाकर सपा से इस्तीफ़ा दे दिया था।

सपा प्रवक्ता डॉ रोली तिवारी मिश्रा ने ट्वीट में लिखा, आदरणीय अखिलेश यादव जी पिछले 15 घण्टे से कुछ यादव लोग आपकी ऑफिशियल फेसबुक प्रोफ़ाइल पर मुझे ब्राह्मण होने की वजह से गालियां दे रहे हैं, ख़ास बात ये कि उनमें से एक गोरखपुर सपा जिलापंचायत अध्यक्ष का पति मनुरंजन यादव है, मैं एक महिला, दो पुत्रियों की माँ और देश के एक सैन्याधिकारी की पत्नी हूँ।

अगले ट्वीट में डॉ रोली ने लिखा, आदरणीय अखिलेश जी आपकी पार्टी की एक समर्पित महिलानेत्री जो कि UN_मैडेल प्राप्त एक सैन्याधिकारी की सम्मानित पत्नी और दो बेटियों की माँ भी है, आपके आधिकारिक फेसबुक पेज पर आपके ही पार्टी के गोरखपुर जिलापंचायतअध्यक्ष के पति द्वारा गाली दिए जाने पर कब तक कार्यवाही की प्रतीक्षा करे?

एक अन्य ट्वीट में में सपा प्रवक्ता ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और यूपी के डीजीपी को टैग करते हुए लिखा, आपके संज्ञान में लाना है कि अखिलेश यादव जी की आधिकारिक फेसबुक प्रोफाइल पर गोरखपुर के सपा जिलापंचायत अध्यक्ष के पति मनुरंजन यादव ने मुझे तिवारी और मिश्रा सरनेम लगाने पर बेहद अश्लील गालियाँ लिखीं। सीएम साहब क्या आप मुझे न्याय देंगे? इस ट्वीट में स्पा प्रवक्ता ने कुछ स्क्रीनशॉट्स भी संलग्न किया है।

एक और ट्वीट करते हुए रोली ने लिखा, कल मेरे राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी की फेसबुक की ऑफिशियल प्रोफ़ाइल पर सपा जिलापंचायत अध्यक्ष गोरखपुर के पति मनुरंजन यादव ने अन्य साथियों के साथ मेरे सरनेम को लेकर बेहद अश्लील गालियाँ दीं, मैं FIR SSP आगरा को प्रेषित कर रही हूँ।