चीनी भोजन बेचने वाले रेस्टोरेंट पर तत्काल लगे प्रतिबन्ध: रामदास अठावले

नई दिल्ली, 18 जून: सोमवार रात को भारत और चीन सेना के बीच लद्दाख के गलवान घाटी में हुई झड़प के बाद देश में चीन के खिलाफ आक्रोश है, चाइनीज प्रोडक्ट के बायकॉट की मुहिम जोर पकड़ चुकी है, इसी बीच केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने चीनी भोजन बेचने वाले रेस्टोरेंट पर तत्काल प्रतिबन्ध लगानें की मांग की थी।

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इण्डिया ( RPI ) के मुखिया और केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने कहा की, चीनी भोजन बेचने वाले रेस्टोरेंट पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। मैं लोगों से चीनी भोजन का बहिष्कार करने की अपील करता हूं।

गौरतलब है कि चीन की कायराना हरकत के बाद भारत में चीनी सामानों के बहिष्कार का आंदोलन जोरों पर है। देश के कई हिस्सों में चाइनीज सामानों को आग लगाई गई. साथ ही लोगों ने चीनी सामान न ख़रीदनें का संकल्प भी लिया।

ज्ञात हो की सोमवार रात को गलवान घाटी में चीन और भारतीय सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हो गई थी। भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए, वहीँ चीन के भी 43 सैनिक मारे गए हैं। लेकिन चीन आंकड़ा नहीं बता रहा है।

चीनी सेना ने गलवान घाटी में बातचीत करने गई भारतीय सेना की टुकड़ी पर अचानक लाठी-डंडों, पत्थरों और नुकीले हथियारों से हमला बोल दिया। भारतीय सेना ने भी ऑन द स्पॉट बदला लेते हुए चीन के 43 सैनिकों को मौके पर ही ढ़ेर कर दिया।