कपिल मिश्रा के आह्वान पर दुनियाभर के 100 शहरों में अजय पंडिता की ह्त्या के विरोध में प्रोटेस्ट हो रहा है

कुछ दिनों पहले आतंकियों ने कश्मीरी पंडित अजय पंडिता की गोली मारकर ह्त्या कर दी थी, अजय पंडिता की ह्त्या के विरोध में अब दुनियाभर से आवाज उठ रही है। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने आतंकियों के खिलाफ आवाज उठानें और एकजुटता दिखानें की अपील की थी, जिसके तहत लोगों को अपने घर या पड़ोस से ही सोशल डिस्टेन्सिंग बनाए रखते हुए विरोध प्रदर्शन करने की अपील की गई है।

कपिल मिश्रा के आह्वान के बाद दुनियाभर के 100 शहरों में अजय पंडिता की ह्त्या के विरोध में और इस्लामिक आतंकवादियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है, ट्विटर पर #HinduUnitedAgainstTerror टॉप ट्रेंड भी कर रहा है।

प्लाकार्ड और बैनर-पोस्टर के जरिए लोग अपना रोष प्रकट कर रहे हैं और #HinduUnitedAgainstTerror ट्रेंड पर अपने मन की बात लिख कर अजय पंडिता की हत्या के विरोध में आतंकियों के खिलाफ आवाज़ उठा रहे हैं।

कपिल मिश्रा ने जानकारी दी थी की, दुनिया भर के क़रीब 100 शहरों से इस वैश्विक अभियान में भागीदारी की तैयारी की गई है। ऑस्ट्रेलिया स्थित पर्थ, सिडनी और ब्रिस्बेन में भी विरोध प्रदर्शन होंगे।

इसके बाद इंडोनेशिया, सिंगापुर, मलेशिया, फिलीपींस, थाईलैंड से लोग अपना रोष प्रकट करेंगे। न्यूजीलैंड के ऑकलैंड में विरोध प्रदर्शन शुरू हो चुका है। कपिल मिश्रा ने बताया कि दोपहर होते-होते भारत, अफ्रीका, ब्रिटेन, यूरोप और रात होते-होते अमेरिका, कनाडा सहित सारी दुनिया में यह कैंपेन चलेगा।

अभी तक आट्रेलिया के पर्थ, सैन फ्रांसिस्को, न्यूजीलैंड, थाईलैंड, कैलिफोर्निआ आदि विदेशी शहरों से प्रोटेस्ट की तस्वीरें वीडियो आ चुकी हैं, भारत में भी बड़े-बड़े शहरों में लोग सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रोटेस्ट कर रहे हैं।

कपिल मिश्रा दुनिया के कोने-कोने से आई तस्वीरों को अपने ट्विटर टाइमलाइन पर रीट्वीट कर रहे हैं, ताकि लोगों को पता चलता रहे कि कहाँ-कहाँ से अजय पंडिता की हत्या के खिलाफ आवाज़ उठ रही है। उन्होंने दुनिया के कई शहरों से तस्वीरें शेयर की, जिनमें महिलाओं और बुजुर्गों को भी देखा जा सकता है। कपिल मिश्रा के साथ इस मुहिम में जेके नाउ और कई हिंदूवादी संगठन भी जुड़े हुए हैं।

बता दें कि, दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में सोमवार ( 8 जून 2020 ) को कश्मीरी पंडित अजय भारती की आतंकियों ने गोली मारकर ह्त्या कर दी, इस वारदात को जिहादी संगठन द रजिस्ट्रेशन फ्रंट ( टीआरएफ ) ने अंजाम दिया था। अजय पंडित वहां एकमात्र हिन्दू सरपंच थे, जो आतंकियों से नहीं देखा गया। मृतक अजय पंडिता तकरीबन 6 बजे किसी काम से अपनें घर से बाहर निकलें थे इसी दौरान आतंकी आये और हत्या करके फरार हो गए। इसके बाद अजय पंडित को अस्पताल ले जाया गया जहाँ उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

loading...