विपक्षियों से बोले कुमार विश्वास, मोदी का विरोध बाद में कर लेना, इस समय INDIAN ARMY के साथ रहो

लद्दाख, 16 जून: भारत और चीन सेना के बीच लद्दाख में बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच सोमवार रात को दोनों सेनाओं के बीच गलवान घाटी में हिंसक झड़प हो गई। इस झड़प में सेना के एक अधिकारी समेत भारतीय सेना के 3 जवान वीरगति को प्राप्त हुए। चीनी सेना को भी काफी छति पहुंची है। इस मामलें पर अब राजनीति भी शुरू हो गई है।

मशहूर कवि कुमार विश्वास ने विपक्षी पार्टियों से कहा की, मोदी का विरोध बाद में कर लेना, इस समय भारतीय सेना के साथ खड़े होने का समय है।

कुमार विश्वास ने ट्वीट में लिखा, हे नेताओं-पार्टियों-समर्थको के नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा का विरोध करना आपका लोकतांत्रिक अधिकार है, पहले भी किया हैं बाद में भी कर लेना। पर इस वक़्त दुश्मन को दरार दिखाना देश के ख़िलाफ़ है ! इस वक्त तो चीन के ख़िलाफ़ पूरा देश अपनी सेना के साथ होना चाहिए।

एक अन्य ट्वीट में कुमार विश्वास ने लिखा, प्यारे देशवासियो! देश हर तरह की चुनौतियों से मुख़ातिब है! ऐसे कठिन समय में अपनी-अपनी निजी मान्यताओं और एजेंडों को अलग रखकर गम्भीरता से केवल और केवल देश के हित के साथ रहिए ! उत्तेजना व हल्केपन से बचिए, साथ ही यह भी सदैव याद रखिए-“नंद मगध नहीं है।

बता दें कि, भारत और चीन सेना के बीच गलवान घाटी में हुई झड़प में चीनी सैनिकों को भी काफी छति पहुंची है, चीन के सरकार अख़बार ग्लोबल टाइम्स के चीफ रिपोर्टर ने ट्वीट कर जानकारी दी की, भारत के साथ हुई झड़प में चीन के 5 जवान शहीद हुए हैं जबकि 11 जवान गंभीर रूप से घायल हैं। वहीं चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा की, भारत ने सीमा का उल्लंघन किया है।