बड़ी खबर: भारत को दुनिया की सबसे शक्तिशाली मिसाइल देगा इजराइल! अब चीन की खैर नहीं?

गलवान घाटी की घटना के बाद मोदी सरकार चीन के खिलाफ बेहद सख्त हो गई और चीन को कड़ा सबक सिखानें की तैयारी भी कर रही है, जी हाँ! गलवान घाटी में कमांडिंग ऑफिसर कर्नल संतोष बाबू समेत 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होनें के बाद भारत हर तरीके से चीन को चूर-चूर करनें की तैयारी कर रहा है। जी हाँ! इसी बीच एक बड़ी खबर आई है, खबर यह है कि – भारत का परम मित्र इजराइल भारत को रक्षा कवच देगा।

चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच भारत की तैयारी में अब एक और घातक हथियार शामिल होना वाला है, जिसका नाम है बराक-8 LRSM मिसाइल, ये मिसाइल जल्द ही इजराइल भारत को सौंप देगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, साल 2018 में भारत और इजराइल के बीच बराक-8 मिसाइल की डील हुई थी और अब इस मिसाइल को भारत लानें की तैयारी चल रही है। बराक-8 लम्बी दूरी की मिसाइल है, जमीन से हवा में मार करनें वाला सरफेस टू एयर सिस्टम है और जहाजों पर ये आसानी से तैनात हो सकता है।

रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक़, सबसे बड़ा फायदा यह है कि कम समय में कहीं भी बराक-8 की तैनाती की जा सकती है, तैनाती के मामलें में अमेरिका के पैट्रियाट या रूस के S4-100 के मुकाबले बराक-8 को ज्यादा तेजी और आसानी से तैनात किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि भारत ने इजराइल के साथ बराक-8 मिसाइल के लिए 2 बिलियन डॉलर की डील की थी, जिसे अब अंतिम रूप दिया जा रहा है। बराक-8 को दुनिया की सबसे शक्तिशाली मिसाइलों में से एक माना जाता है।

चीन से बढ़ते तनाव के बीच भारत सरकार ने एम-777 होवित्जर तोपों के स्पेशल गोले खऱीदने के लिए अमेरिका से संपर्क किया है। इन सबको देखकर लगता है कि भारत चीन को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए हर तरह से तैयार हो रहा है। इससे पहले भारत सरकार ने सेना को हथियार ख़रीदनें के लिए 500 करोड़ का आपात फंड जारी कर दिया है। इसके अलावा LAC पर भारत सरकार ने सेना की संख्या बढ़ा दी है।