कांग्रेस और चीनी सरकार के बीच हुए समझौते के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दायर हुई याचिका

नई दिल्ली, 24 जून: LAC पर भारत और चीन के बीच जारी तनातनी के बीच कांग्रेस पार्टी मुश्किलों में फंस गई है, जी हाँ! कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के खिलाफ 2008 में हुए समझौते की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर हुई है।

सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका के मुताबिक़, कांग्रेस पार्टी और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के बीच 2008 में आपसी सहयोग और जानकारियों के लेन-देन के लिए हुआ समझौता संदिग्ध है और यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मसला है। याचिका में मांग की गई है कि इस समझौते की जांच राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी ( NIA ) करे। इस याचिका को वकील शशांक शेखर और गोवा के पत्रकार सेवियो रोड्रिग्स ने दायर की है।

बता दें कि – 2008 में बीजिंग ओलंपिक के दौरान UPA अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी चीन गए थे, तब कांग्रेस पार्टी और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना के बीच शी जिनपिंग की मौजूदगी में ही समझौता हुआ था। भाजपा इसी समझौते को आधार बनाकर कांग्रेस को लगातार घेर रही है।

loading...