दिल्ली में दं’गे हुए तो 15 लाख CCTV कैमरे गायब, अब कोरोना फैला तो मोहल्ला क्लिनिक गायब?

नई दिल्ली, 14 जून: दिल्ली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है। रोजाना एक हजार से ज्यादा कोरोना केसेज आ रहे हैं। दिल्ली में दिन-प्रतिदिन हालात बहुत भयावह होते चले जा रहे हैं। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को दिल्ली में कोरोना वायरस के हालात को लेकर समीक्षा बैठक की। इसके साथ ही ये भी तय हो गया की दिल्ली को लन्दन बनानें का वादा करनें वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दिल्ली में तेजी से फैलते कोरोना को रोकनें में फेल हो गए।

गौरतलब है की मोहल्ला क्लिनिक केजरीवाल के सबसे महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक था, लेकिन अब कोरोना संकट आया है तो केजरीवाल का मोहल्ला क्लिनिक गायब हो गया हैं। इसी तरह केजरीवाल ने दिल्ली में 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगवानें का दावा किया था, कहा था की पूरी दिल्ली के अंदर आम आदमी पार्टी 10 से 15 लाख कैमरे लगाएगी। कोई अगर कुछ गड़बड़ करेगा तो उसे पता है कि मेरी रिकॉर्डिंग हो रही है.. मैं पकड़ा जाऊंगा। कुछ कैमरे लगे भी।

इसी दौरान फ़रवरी 2020 में दिल्ली में नागरिकता संसोधन कानून ( CAA ) के विरोध में कम्युनल दंगे हुए, दंगाइयों की पहचान करनें के लिए जब सीसीटीवी फुटेज की जरूरत पड़ी तो केजरीवाल का कैमरा गायब हो गया, अब सोशल मीडिया पर सवाल पूछा जा रहा है की, केजरीवाल ऐसे कैसे दिल्ली को लंदन बनायेंगें। जब समय पर इनका सबकुछ गायब हो जा रहा है।

फिलहाल दिल्ली में कोरोना बेलगाम हो चुका है, कोरोना को रोकनें के लिए मोदी सरकार ने मोर्चा संभाल लिया है, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जानकारी देते हुए बताया की दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने तुरंत 500 रेल्वे कोच दिल्ली को देने का निर्णय लिया है। इन रेलवे कोच से न सिर्फ दिल्ली में 8000 बेड बढ़ेंगे बल्कि यह कोच कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए सभी सुविधाओं से लेस होंगे।

केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा की, दिल्ली के कन्टेनमेंट जोन में Contact mapping अच्छे से हो पाए इसके लिए घर-घर जाकर हर एक व्यक्ति का व्यापक स्वास्थ्य सर्वे किया जायेगा, जिसकी रिपोर्ट 1 सप्ताह में आ जाएगी। साथ ही अच्छे से मोनिटरिंग हो इसके लिए वहां हर व्यक्ति के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाई जाएगी।

अमित शाह ने बताया, दिल्ली में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए अगले दो दिन में कोरोना की टेस्टिंग को बढाकर दो गुना किया जायेगा और 6 दिन बाद टेस्टिंग को बढाकर तीन गुना कर दिया जायेगा। साथ ही कुछ दिन के बाद कन्टेनमेंट जोन में हर पोलिंग स्टेशन पर टेस्टिंग की व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी। दिल्ली के छोटे अस्पतालों तक कोरोना के लिए सही जानकारी व दिशा निर्देश देने के लिए मोदी सरकार ने AIIMS में Telephonic guidance के लिए वरिष्ठ डॉक्टर्स की एक कमेटी बनाने का निर्णय लिया है। जिससे नीचे तक सर्वश्रेष्ठ प्रणालियों का संचार किया जा सके। इसका हेल्पलाइन नं. कल जारी हो जाएगा।

दिल्ली के निजी अस्पताओं में कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए निजी अस्पतालों के कोरोना बेड में से 60% बेड कम रेट में उपलब्ध कराने, कोरोना उपचार व कोरोना की टेस्टिंग के रेट तय करने के लिए डॉ. पॉल की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गयी है जो कल तक अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

Sponsored Articles
loading...