टिक-टॉक बैन होनें के बाद तिलमिलाए कांग्रेस नेता, कहा- मोदी का ये ऐप भी बैन किया जाय

नई दिल्ली, 30 जून: केंद्र की मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए सोमवार ( 29 जून 2020 ) को टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज एप पर बैन लगा दिया। इसमें प्रमुख रूप से टिक-टॉक, हेलो, यूसी ब्राउजर, वी चैट समेत 59 चाइनीज एप शामिल हैं। सरकार ने यह फैसला ऐसे वक्त में लिया जब LAC पर चीन के साथ तनातनी चल रही है।

टिक-टॉक पर प्रतिबन्ध लगनें के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पृथ्वीराज चव्हाण बौखला गए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नमो ऐप को बैन करनें की मांग करनें लगे।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ अशोक पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि – मोदी का नमो एप भी बैन किया जाना चाहिए। यह भारतीयों की निजता का उल्लंघन कर रहा है। चव्हाण ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आधिकारिक मोबाइल फोन ऐप्लिकेशन नमो ऐप चोरी-छिपे निजता ‘सेटिंग’ को बदल देता है और डाटा अमेरिका में तृतीय पक्ष कपंनियों को भेजता है।

कोंग्रेसी नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने अपनें ट्वीट में लिखा, अच्छा है कि मोदी सरकार 59 चीनी ऐप पर पाबंदी लगाकर 130 करोड़ भारतीयों की निजता की रक्षा कर रही है। नमो ऐप भी डाटा को एकत्र कर, निजता सेटिंग बदल कर और अमेरिका में तृतीय पक्ष कपंनियों को भेजकर भारतीयों की निजता का उल्लंघन करता है। इसको भी बैन किया जाना चाहिए।

बता दें कि आईटी मंत्रालय की रिपोर्ट में कहा गया है कि बैन किये गए चाइनीज ऐप्स कुछ ऐसी गतिविधियों में संलिप्त हैं जो भारत की रक्षा, ​सुरक्षा और पब्लिक की संप्रुभता और अखंडता के लिए हानिकारक है, इसलिए इन्हें भारत में बैन कर दिया गया। गौरतलब है कि भारत में टिक-टॉक समेत सभी चाइनीज एप्स यूज करनें वालों का डेटा सीधा चाइना जाता था। चीन उस डेटा का क्या करता था कोई पता नहीं रहता था। इसी को लेकर सरकार ने चाइनीज एप्स को बैन करनें का फैसला लिया।

loading...