विवादित नक़्शे के बाद नेपाल ने भारत के खिलाफ की एक और वाहियात हरकत

काठमांडू, 21 जून: नेपाल सरकार अब खुलकर भारत के विरोध में उतर आई है, पहले विवादित नक्शा संसद के दोनों सदनों में पास कराया। इसके बाद अब एक और भारत विरोधी हरकत की है।

ऑपइण्डिया के मुताबिक़, नेपाल अपने एफएम चैनल्स पर भारत विरोधी गानों का प्रसारण कर रहा है। इन गानों के जरिए वह लिपुलेख, कालापानी और लिम्पियाधुरा के इलाकों को भारत से वापस लेने की बात कह रहा है। इन गानों का प्रसारण धारचुला एफएम समेत कुछ और चैनलों पर हो रहा है, जिसे उत्तराखंड के तमाम पर्वतीय इलाकों में सुना जा सकता है। मालूम हो की ये इलाके नेपाल की सीमा के पास हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में टीचर की नौकरी करने वाली बबिता सांवल ने बताया कि वह रोज अपने स्कूल से लौटते वक्त नेपाल के धारचुला एफएम सुनती थीं। हाल के दिनों में इस एफएम चैनल पर भारत विरोधी गानों का प्रसारण शुरू हो गया है, जिन्हें हर घंटे कई बार बजाया जाता है। इसे देखते हुए अब उन्होंने इन चैनलों को सुनना बंद कर दिया है। इसके अलावा कुछ और लोगों ने नेपाल की इस हरकत को उजागर किया है। नेपाल की इस हरकत पर जल्द ही भारत संज्ञान ले सकता है।

नेपाल के मुख्य एफएम चैनलों के अलावा कुछ पुराने एफएम चैनल जैसे मल्लिकार्जुन रेडियो और annapurna.online जैसे वेबसाइट भारत विरोधी बातें रिपोर्ट करते हैं। कालापानी को नेपाल का हिस्सा बताते हैं।