कोरोना योद्धाओं पर हमला करने वालों की खैर नहीं? होगी 7 साल की जेल, योगी सरकार ने बनाया कड़ा कानून

लखनऊ, 8 मई: कोरोना वायरस के बढ़ते कहर के बीच कोरोना योद्धाओं पर हो रहे हमलों को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार सख्त हो गई है।

योगी कैबिनेट ने ने कोरोना योद्धाओं पर हो रहे हमलों को रोकने के लिए और कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए यूपी लोक स्वास्थ्य एवं महामारी रोग नियन्त्रण अध्यादेश को मंजूरी दी है।

इस अध्यादेश के तहत कोई भी व्यक्ति अगर कोरोना संक्रमित होने के बावजूद छिपता है और जानकारी देने से परहेज करता है तो उसे 3 साल तक की जेल और 2 लाख तक जुर्माने की सजा हो सकती है अथवा दोनों हो सकती है।

इसी तरह कोरोना योद्धाओं, डॉक्टरों, पुलिसकर्मियों, सुरक्षकर्मियों और सफाईकर्मियों पर यदि कोई हमला करता है तो उसे 7 साल तक की जेल हो सकती है और 5 लाख तक जुर्माने का प्रावधान किया गया है। अगर मामला गंभीर रहा तो दोनों सजा भुगतनी पड़ सकती है।

इसलिए कोरोना योद्धाओं पर हमला न करके उनका सम्मान करें, हौंसला बढ़ाएं, ताकि कोरोना से लड़ने के लिए उनका मनोबल ऊंचा हो सके।