शराब के ठेकों पर टूट पड़ी भीड़, लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग का भी नहीं रहा ध्यान

नई दिल्ली, 4 मई: लॉकडाउन के तीसरे चरण में शराब की दुकानें खोल दी गई हैं। लगभग डेढ़ महीनों से बिना शराब के जी रहे लोग इतने बेताब दिखे कि सुबह से ही ठेकों के बाहर लंबी-लंबी लाइन लग गई।

देशभर में केंद्र सरकार की अनुमति से दुकानें खोली जा रही हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने साफ निर्देश दिए हैं कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा जाए।

कई जगहों पर तो दुकानें खुलने से दो घंटे पहले ही लोग लाइन में खड़े हो गए और अपनी बारी का इंतजार करने लगे। लेकिन किसी को सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रहा। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानों के बाहर बैरिकेड्स लगाए गए हैं और लोगों के दूर-दूर खड़े होने के लिए पेंट से निशाना भी बनाए गए हैं। कोशिश यह है कि दुकान पर आने वाले लोग कोरोना की महामारी से बचे रहें। सामने आई तस्वीरों में देखा जा सकता है कि कहीं लोहे की तो कहीं लकड़ी की बैरिकेडिंग की गई है।