कर्नाटक में 10 घंटे के अंदर बिकी 45 करोड़ की शराब, 1 शख्स ने अकेले खरीदी 52,841 की दारू

बेंगलुरु, 5 मई: कोरोना वायरस के चलते कल यानी 4 मई ( सोमवार ) से लॉकडाउन का तीसरा चरण लागू हो गया। तीसरे चरण में कुछ छूट दी गई थी। लेकिन लोगों ने उसका नाजायज फायदा उठा लिया। सोमवार को अधिकतर राज्यों में शराब के ठेके खुलने के आदेश थे। ठेका खुलते ही लोग टूट पड़े।

शराब के ठेके खुलने से कर्नाटक को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। राज्य में महज 10 घंटे के अंदर 45 करोड़ रूपये की शराब बिक गई, कर्नाटक आबकारी विभाग की तरफ से बताया गया है कि इस एक दिन यानि सोमवार को राज्य में 45 करोड़ रुपए की शराब की बिक्री हुई है।

आबकारी विभाग के अनुसार, सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक 3.9 लाख लीटर बीयर और 8.5 लाख लीटर इंडियन मेड लिकर की बिक्री से 45 करोड़ रुपए का राजस्व प्राप्त हुआ है। इसके अलावा आबकारी विभाग ने बताया की, मुझे यह जानकर आश्चर्य हुआ कि अदुगोड़ी में अकेले एक व्यक्ति ने 52,841 रुपए की शराब खरीदी है।

बता दें कि – सोमवार को शराब के ठेके खुलने से पहले ही अलग-अलग राज्यों में कई किलोमीटर की लाइनें लग गई थी। जिसकी तस्वीरें, वीडियो सोशल मीडिया पर आते रहे। लोग कोरोना को भूलकर शराब लेने के लिए बेताब दिखे। क्योंकि ठीक 45 दिन बाद ठेका खुला था। लोगों ने फिर से स्टॉक रख लिया है।