आशुतोष ने ‘रामायण’ को बताया राजनितिक, शाजिया इल्मीं बोले- आपके दिमाग़ में कौन सा कीटाणु है

नई दिल्ली, 24 मई: लॉकडाउन के दौरान दूरदर्शन पर प्रसारित किये गए “रामायण” को आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और पत्रकार आशुतोष ने राजनितिक करार दिया है। आशुतोष ने ट्ववीट कर कहा, ‘रामायण’ का टीवी प्रसारण क्या एक राजनीतिक अभियान है?

आशुतोष को जवाब देते हुए भाजपा नेता शाजिया इल्मीं ने कहा की, आपके दिमाग में कौन सा कीटाणु घुसा है। जो हर एक धार्मिक या सांस्कृतिक रचना को सिर्फ़ संदेह के ऐनक से देखने पर मजबूर करता है भाई?

भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता शाजिया इल्मीं ने ट्वीट में लिखा, आप के हिसाब से तो रामायण का प्रसारण तो छोड़, पूरी रामायण ही एक राजनीतिक अभियान है! लोगों की निजी आस्था और धर्म में आपको सिर्फ़ राजनीति ही दिखती है! शाजिया ने आगे लिखा, आपके दिमाग़ में यह कैसा कीटाणु है जो आप को हरेक धार्मिक या सांस्कृतिक रचना को सिर्फ़ संदेह के ऐनक से देखने पर मजबूर करता है भाई?

आशुतोष ने अपनें हिंदीं न्यूज़ पोर्टल “सत्यहिंदी” पर रामायण के प्रसारण पर सवाल उठाते हुए राजनितिक करार दिया है। आशुतोष का मानना है की, रामायण एक राजनितिक अभियान हैं।

गौरतलब है की कोरोना संकट के कारण देशभर में लॉकडाउन लगा दिया गया। इस दौरान दर्शकों ने केंद्रीय सुचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से अपील की कि, लॉकडाउन के दौरान “रामायण” और महाभारत का प्रसारण करवाया जाय।

दर्शकों की मांग को देखते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दूरदर्शन पर “रामायण” और महाभारत के प्रसारण की अनुमति दे दी। और दूरदर्शन पर चलनें लगा। इन दोनों धार्मिक सीरियलों को जनता का प्यार भी मिला। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की रामायण ने ताबड़तोड़ टीआरपी हासिल की। टीआरपी के मामलें में सब रामायण से पीछे छूट गए। कुछ लोगों को यह हजम नहीं हो रहा है।

loading...