लॉकडाउन-4: गृहमंत्रालय ने राज्यों को दिए सख्त निर्देश, कहा- केंद्र के नियमों में बदलाव नहीं करना

नई दिल्ली, 18 मई: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस देश में तेजी से पैर पसार रही है। इस खतरनाक वायरस वायरस को रोकनें के लिए देशभर में लॉकडाउन का चौथा चरण लागू कर दिया गया है। चौथा चरण 31 मई तक चलेगा। इस लॉकडाउन में राज्यों को ज्यादा पॉवर दी गई है लेकिन सख्त निर्देशों के साथ।

गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोई भी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश 31 मई तक लागू देशव्यापी लॉकडाउन के लिए जारी दिशा-निर्देशों को कम नहीं करेगा। हालाँकि जोन अपनें हिसाब से कर सकते हैं।

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को दिए गए संदेश में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि 11 मई को मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आयोजित एक वीडियो कांफ्रेंस के बाद राज्यों के विचार और सहमति लेने के बाद लॉकडाउन के चौथे चरण के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए थे।

भल्ला ने कहा – जैसा कि मेरे पहले के पत्रों में स्पष्ट किया गया है, मैं फिर से दोहराना चाहूंगा कि राज्य और केंद्रशासित प्रदेश एमएचए द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशों को कम या उनमें बदलाव नहीं कर सकते हैं। स्थिति के आकलन के आधार पर राज्य और केंद्र शासित प्रदेश, विभिन्न क्षेत्रों में कुछ अन्य गतिविधियों को प्रतिबंधित कर सकते हैं।