जामिया की इस जहरीली नागिन ने हंदवाड़ा के शहीदों को बताया युद्ध अपराधी, भड़के हिन्दुस्तानी

नई दिल्ली, मई: जामिया मिलिया इस्लामिया हो या जेएनयू यहाँ देश के कुछ जहरीले सांप ही नहीं नागिन भी सरकार के पैसे से मुफ्त पढ़ाई कर रहे हैं और समय-समय पर ये सरकार पर ही अपना फन उठाते रहते हैं। जामिया में पढ़ने वाली लॉ की छात्रा महूर परवेज को देश की जहरीली नागिन बताया जा रहा है। कल से ही ट्विटर पर उनके नाम का ट्रेंड चल रहा है।

इस तथाकथित नागिन को अर्बन नक्सलियों की साथ मिल रहा है जबकि देश के 90 फीसदी लोग इस छात्रा को लताड़ रहे हैं। आपको बता दें कि महूर परवेज सोशल मीडिया पर हंदवाड़ा में बलिदान हुए 5 भारतीय सैनिकों को ‘वार क्रिमिनल’ यानी ‘युद्ध के अपराधी’ बताया है। परवेज ने अपने सोशल मीडिया पर देश की सुरक्षा में तैनात वीरकर्मियों के वीरगति प्राप्त होने पर उन्हें श्रद्धांजलि मिलता देख रविवार को आश्चर्य जताया और पूछा कि लोग युद्ध अपराधियों का महिमामंडन क्यों कर रहे हैं।

बता दें कि महूर परवेज ने ये पोस्ट अपने इंस्टाग्राम और अन्य सोशल मीडिया साइटों पर शेयर किया। लेकिन जैसे ही ये पोस्ट वायरल होना शुरू हुआ, उसने इसे डिलीट कर दिया। मगर, लोग इसका स्क्रीनशॉट लेकर इस पर टिप्पणी करने लगे।