लॉकडाउन का उल्लंघन कर धरने पर बैठे यशवंत सिन्हा सहित कई लोग गिरफ्तार

नई दिल्ली, 18 मई: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते देशभर में 31 मई तक लॉकडाउन लगा हुआ है। इस दौरान तमाम चीजों पर रोक है। धरना प्रदर्शन की भी इजाजत नहीं है। इसके बावजूद धरना प्रदर्शन कर रहे यशवंत सिन्हा को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। यह जानकारी खुद सिन्हा ने दी। पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने ट्वीट में लिखा, उन्हें दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के अनुसार, यशवंत सिन्हा अपने कई समर्थकों के साथ राजघाट पर धरनें पर बैठे थे, सिन्हा की मांग थी की, प्रवासी मजदूरों को पहुंचानें के लिए सशस्त्र बलों की तैनाती की जाय। सिन्हा ने कहा कि असैन्य प्राधिकार सड़कों पर पैदल चलने को बाध्य हुए प्रवासी मजदूरों की मदद करने में नाकाम रहे हैं, फिर चाहे केंद्र सरकार हो या राज्य सरकारें।

उन्होंने कहा, हमारी साधारण सी मांग है कि सशस्त्र बलों और अर्द्धसैनिक बलों को जिम्मेदारी दी जाए कि वे अपने पास मौजूद सभी संसाधनों का उपयोग करके इन प्रवासी श्रमिकों को सम्मान के साथ उनके घर पहुंचाएं। हालाँकि सिन्हा उस समय धरनें पर बैठे थे जब देश में लॉकडाउन लग हुआ है, धरने पर रोक है।

इसके अलावा प्रवासी मजदूरों को उनके गन्तव्य तक पहुंचानें के लिए केंद्र सरकार हरसंभव मदद कर रही है। रेलवे सैकड़ों ट्रेन चलाया है मजदूरों के लिए। राज्य सरकार बसें भी लगाई हैं।