दिल्ली में पिछले एक हप्ते में बढे 3500 कोरोना मरीज, केजरीवाल बोले, चिंता की कोई बात नहीं

delhi-cm-arvind-kejriwal-corona-latest-update-25-may

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कोरोना से सम्बंधित सरकार द्वारा उठाये गए क़दमों की जानकारी दी. केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है लेकिन इसमें चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि काफी मरीज ठीक होकर घर भी जा रहे हैं।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना तो रहेगा लेकिन हमारी कोशिश कोरोना से होने वाली मौत हो रोकना है. उन्होंने बताया कि दिल्ली में अब तक 13418 कोरोना संक्रमण हो चुके हैं लेकिन 6540 मरीज ठीक भी हो चुके हैं जो करीब आधे हैं। अन्य मरीजों को भी ठीक करने का प्रयास किया जा रहा है।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में पर्याप्त मात्रा में बेड, वेंटीलेटर और अन्य सुविधाएं मौजूद हैं, अभी हम कोरोना मरीजों का इलाज करने में सक्षम हैं, सरकारी अस्पतालों में कोरोना के 3829 बेड हैं जिसमें 3164 में ऑक्सीजन की सुविधा है। अभी सिर्फ डेढ़ हजार बेड ही इस्तेमाल हो रहे हैं और अन्य खाली हैं।

इसी तरह से प्राइवेट अस्पतालों में 677 बेड हैं जिसमें 509 बेड भर चुके हैं और सिर्फ 150-175 बेड खाली हैं, कुछ लोग प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराना पसंद करते हैं इसीलिए कल दिल्ली सरकार ने एक आर्डर जारी किया जिसमें 170 प्राइवेट अस्पतालों को अपने 20 पर्सेंट बेड कोरोना मरीजों के लिए रिज़र्व रखने को कहा है। अब प्राइवेट हॉस्पिटल में भी करीब 2000 बेड खाली हो चुके हैं।

उन्होंने बताया कि दिल्ली में 17 मई को लॉक डाउन में ढील दी गयी थी, हमें अंदेशा था कि ढील देने के बाद कोरोना संक्रमण में बढ़ोतरी होगी जो हुई भी है लेकिन इसमें चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि अभी इस तेजी से मरीज नहीं बढ़ रहे हैं कि हमारे अस्पताल फेल हो जाएं, अभी स्थिति नियंत्रण में हैं।

loading...