कांग्रेस नेता अलका लाम्बा ने दी मोदी-योगी को गाली, ट्विटर पर टॉप ट्रेंड हुआ #ArrestAlkaLamba

नई दिल्ली, 25 मई: कुछ नेता/नेत्री मोदी-योगी के विरोध में इस कदर अंधे हो गए हैं की सभी मर्यादा लांघ जा रहे हैं। इन्हीं में से एक हैं अलका लाम्बा जो कांग्रेस की नेता हैं। अलका लाम्बा मोदी-योगी पर निशाना साधनें के चक्कर में सारी राजनितिक मर्यादायें लांघ गई। राजनीतिक मर्यादा, भाषा और व्याकरण को तार-तार एवं तहस-नहस कर दिया।

अलका लाम्बा ने यू’ट्यूब वीडियो लिंक के साथ एक ट्वीट किया, इस ट्वीट में अलका ने लिखा, मोदी-योगी तुम्हारे मुंह पर थूक’ती हूँ, तुम दोनों नपुं’सक हो।? अलका लाम्बा अपने ट्वीट के माध्यम से ऐसा दर्शाना चाहती हैं जैसे मोदी-योगी कुछ हैं ही नहीं, इन्हें कोई जानता ही नहीं? परन्तु अलका लाम्बा शायद ये भूल रही हैं की नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री हैं और योगी आदित्यनाथ भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों के खिलाफ ऐसी आपत्तिजनक भाषा लोकतंत्र में कतई जायज नहीं है।

अलका लाम्बा के इस बेहूदे ट्वीट का सोशल मीडिया पर पुरजोर विरोध हो रहा है और गिरफ़्तारी की मांग की जा रही है। ट्विटर पर इस समय #ArrestAlkaLamba टॉप ट्रेंड कर रहा है। इस ट्रेंड के माध्यम से लोग अलका लाम्बा के खिलाफ गुस्सा व्यक्त कर रहे हैं और पुलिस से गिरफ्तार करनें की मांग कर रहे हैं। #ArrestAlkaLamba पर अबतक 30 हजार से ज्यादा ट्वीट हो चुके हैं।

ट्विटर यूजर अपूर्वा सिंह ने लिखा, एक महिला ने हर महिलाओं को बदनाम कर दिया है। जैसे एक मछली सारे तालाब को गंदा करती है वैसे ही। अलका लाम्बा को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के खिलाफ ऐसी भाषा सहन योग्य नहीं।

इसी तरह अभिषेक आचार्य कुलश्रेष्ठ नाम के ट्विटर यूजर ने लिखा, मैं इसलिये ही कहता हूँ सिर्फ महिला होने का ये मतलब नही की वो इज़्ज़त के काबिल हो, और मेरी ये बात कई महिला सिद्ध कर चुकी है आज फिर एक बार ये सिद्ध हो गया, कोई महिला देवी समान होती है तो कोई राक्षसनी।

बता दें की, हाल ही में कांग्रेस के नेता पंकज पुनिया ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भगवान श्रीमान को लेकर आपत्तिजनक ट्वीट किया था। उसके बाद सोशल मीडिया पर पंकज पुनिया के गिरफ़्तारी की मांग की गई। महज 48 घंटे के भीतर हरियाणा की करनाल पुलिस ने पंकज पुनिया को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया और कोर्ट ने 14 दिन के लिए जेल भेज दिया। इसलिए अलका लाम्बा की गिरफ़्तारी कोई बड़ी बात नहीं है। कभी भी दिल्ली पुलिस अलका को गिरफ्तार कर सकती है। क्योंकि सोशल मीडिया पर चौतरफा अलका के गिरफ़्तारी की मांग की जा रही है।

loading...