राम मंदिर निर्माण के खिलाफ भीम आर्मी के रावण ने UNESCO में शिकायत

अयोध्या, 22 मई: भीम आर्मी चीफ के मुखिया चंद्रशेखर रावण ने अयोध्या राम मंदिर के निर्माण पर रोक लगानें की मांग की है। इसके लिए चंद्रशेखर ने UNESCO से शिकायत की है।

दरअसल अयोध्या में रामंदिर निर्माण से पहले समतलीकरण का कार्य चल रहा है। इस दौरान खुदाई में प्राचीन मूर्तियां और अवशेष मिल रहे हैं। खुदाई में अबतक 7 का’ले पत्थ’र के स्त’म्भ, 6 रेड’सैंड स्टो’न के स्त’म्भ ,5 फु’ट के नक्का’शीनु’मा शिव’लिंग और मेह’राब के पत्थ’र आदि मिले हुए हैं। आगे और भी मिलनें की संभावना है। इसकी जानकारी श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने दी है।

अयोध्या में जो प्राचीन मूर्तियां मिली हैं भीम आर्मी ने उसे बौद्ध से जुड़ा हुआ बताया है। और आंदोलन की भी धमकी दी है। भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण ने ट्वीट में लिखा, अयोध्या में खुदाई के बाद मिल रहे अवशेष चीखकर बोल रहे हैं कि ये बुद्ध से जुड़े हैं। अतः ङेस्क व पुरातत्व विभाग के स्पष्टीकरण तक किसी भी तरह का निर्माण कार्य तत्काल रोका जाए।

चंद्रशेखर ने ट्वीट में आगे लिखा, वहाँ पर ( अयोध्या ) में बौद्ध स्थल बनाने के लिए हम जल्द ही आंदोलन का आगाज करेंगे।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय के मुताबिक़, डीएम एके झा की अनुमति पर राममंदिर को लेकर योजनाओं पर तेजी से कार्य किया जा रहा है। इसमें जमीन को बराबर करना, पुराने गैंगवे को हटाने जैसे काम शामिल हैं, राय ने कहा, इस काम करनें वालों का विशेष ध्यान दिया जा रहा है। जैसे सोशल डिस्टेंसिंग मॉस्क लगाकर कार्य करना आदि।