अमेरिका ने किया चीन पर आर्थिक हमला, हैरत में पड़े जिनपिंग

नई दिल्ली, 30 मई: चीन के वुहान शहर से फैला कोरोना वायरस कई महीनों से देश-दुनिया में कहर मचा रहा है, इस वायरस से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित है, अमेरिका में अबतक लाखों से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं कोरोना के कारण। अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प शुरू से ही चीन पर जानबूझकर कोरोना वायरस फैलानें का आरोप लगाते रहे हैं। सिर्फ आरोप ही नहीं अब अमेरिका ने चीन पर एक्शन भी लेना शुरू कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, अमेरिका ने चीन की 33 कंपनियों को ट्रेड ब्लैकलिस्ट में डाल दिया है, जानकार इसे अमेरिका का चीन पर आर्थिक हमला मान रहे हैं, एक साथ 33 कंपनियों के ब्लैकलिस्ट होनें से चीनी राष्ट्रपति सी जिनपिंग भी हैरत में पड़ गए हैं।

बता दें की, अमेरिका ने चीन की जिन 33 कंपनियों को ब्लैकलिस्ट में डाला है, इनमें से 24 कंपनियों और यूनिवर्सिटीज के साथ सेना के सम्बन्ध थे, इसके अलावा 9 कंपनियों पर शिनजियांग प्रान्त में मानवाधिकार के उल्लंघन का आरोप है।

गौरतलब है की अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प शुरू से ही चीन पर जानबूझकर कोरोना फैलानें का आरोप लगा रहे थे। यही नहीं? ट्रम्प का कहना था की, WHO इसकी जांच कराये, दोषी पाए जानें पर चीन पर कड़ी कार्यवाही की जाय। डॉनल्ड ट्रम्प को इसके लिए ब्रिटेन, फ़्रांस आस्ट्रेलिया जैसे कई शक्तिशाली देशों का साथ भी मिला है।

loading...