ईद की नमाज के लिए नहीं खुलेगी मस्जिद, इलाहबाद हाईकोर्ट ने ख़ारिज की याचिका, पढ़ें

प्रयागराज, 20 मई: देश-दुनिया में कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है। कोरोना को नियंत्रित करनें के लिए भारत में लॉकडाउन 31 मई तक बढ़ा दिया गया है। सभी मंदिर, मस्जिद बंद है। इसी बीच ईद की नवाज के लिए मस्जिद खोलनें को लेकर इलाहबाद हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई थी। लेकिन कोर्ट ने इस याचिका को खारिज करते हुए कहा की, मस्जिद खोलनें का आदेश नहीं दे सकते।

शाहिद अली की याचिका पर हाई कोर्ट ने सीधे दखल देने से इंकार करते हुए कहा कि इस मसले पर पहले राज्य सरकार से अनुरोध किया जाए. यदि, सरकार की ओर से अनुरोध खारिज होता है या फिर अर्जी पेंडिंग रहती है तब हाई कोर्ट में अर्जी डाली जाए।

याचिकाकर्ता शाहिद अली ने ईद के साथ-साथ जून महीने तक जुमे की नमाज के लिए हर शुक्रवार को एक घंटे मस्जिद व ईदगाहों को खोलने की इजाजत मांगी थी। दलील दी गई थी कि ईद व जुमे की नमाज जमात के साथ ही होती है. हालाँकि कोर्ट ने इन सबा दलीलों को ख़ारिज कर दिया।

loading...