शाहीन बाग़ प्रदर्शन में भी शामिल हुए थे कई जमाती, सुरक्षा एजेंसियों के खुलासे से मचा हड़कंप

नई दिल्ली, 2 अप्रैल: कोरोना वायरस की रोकथाम के बीच तब्लीगी जमात वालों ने पूरे देश को संकट में डाल दिया है। इसी बीच सुरक्षा एजेंसियों ने बड़ा खुलासा करके हड़कंप मचा दिया है।

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक़, तबलीगी जमात से जुड़े कुछ लोग शाहीन बाग़ प्रदर्शन में भी शामिल थे, यहीं नहीं सुरक्षा एजेंसियों ने यह भी दावा किया है की, दिल्ली के लगभग 16 मस्जिदों के तबलीगी जमात से लिंक हैं। यह जानकारी वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया ने ट्वीट कर दी है।

बता दें कि – नागरिकता संसोधन कानून ( CAA ) के खिलाफ दक्षिणी दिल्ली के शाहीन बाग़ में लगभग 3 महीनें विरोध प्रदर्शन हुआ। कोरोना की रोकथाम के लिए लगे लॉकडाउन के बीच दिल्ली पुलिस ने जबरन शाहीन बाग़ के धरने को ख़त्म करा दिया था। इस प्रदर्शन में ज्यादातर मुस्लिम समुदाय के लोग शामिल थे। उसमें भी अधिकतर मुस्लिम महिलाएं।

अगर सुरक्षा एजेंसियों का दावा सही निकला और शाहीन बाग़ में एक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया तो भारत में भारी मात्रा में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ सकती है। क्योंकि शाहीन बाग़ धरने में अच्छी-खासी भीड़ इकठ्ठा होती थी। सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल पालन नहीं किया जाता था। लॉकडाउन के बाद भी शाहीन बाग़ का धरना चलता रहा है।

अगर शाहीन बाग़ का एक भी प्रदर्शनकारी कोरोना की चपेट में आया तो शाहीन बाग़ में बैठे बच्चे-बूढ़े सब इसकी चपेट में आयेंगें। जैसे अब तब्लीगी जमात के लोग कोरोना पॉजिटिव पाये जा रहे हैं। दिल्ली में अबतक तब्लीगी जमात से जुड़े 50 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव पए गए हैं, वहीँ तब्लीगी जमात से जुड़े 6 लोगों की तेलंगाना में मौत हो गई है।