मोहम्मद नूर और इफ़्तेख़ार ने PM Cares फंड के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, लोगों से लूटे 52 लाख

एक तरफ पूरा देश कोरोना वायरस जैसी खतरनाक महामारी से जंग लड़ रहा है तो वहीँ दूसरी तरफ कुछ अपराधी मदद करने वालों को भी चूना लगानें में जुटे हैं। ताजा मामला झारखण्ड के हजारीबाग़ से सामने आया है। जहाँ मोहम्मद नूर और मोहम्मद इफ्तेखार नाम के दो सेज भाइयों ने पीएम केयर रिलीफ फंड डॉट कॉम नाम का एक फर्जी वेबसाइट बनाया।

उसमें अपील की कि कोरोना संक्रमण से बचाव और लॉकडाउन से पीड़ित लोगों की मदद के लिए निम्न अकाउंट में दान दें। वेबसाइट में जिन अकाउंट का उल्लेख किया गया, उसमें खाताधारक का भी नाम पीएम केयर लिखा गया था, जबकि पंजाब नेशनल बैंक बड़ी बाजार शाखा के मैनेजर ने उक्त खाता को सर्च किया, तो दोनों खाता के खाताधारक सगे भाई मोहम्मद नूर और मोहम्मद इफ्तेखार निकले।

ये दोनों मुफस्सिल थाना क्षेत्र के लाखे के रहने वाले हैं। इस पर शाखा प्रबंधकों को संदेह हुआ और उन्होंने सदर थाने में अलग-अलग आवेदन दिए। दोनों बैंक से इस फर्जी वेबसाइट और अकाउंट के माध्यम से कुल 52 लाख रुपए लोगों के लूटे। फिलहाल दोनों गिरफ्तार हो गए हैं।

Sponsored Articles
loading...