बांद्रा के बाद सूरत में उमड़ी हजारों मजदूरों की भीड़, गाँव जाने की कर रहे हैं मांग

सूरत, 15 अप्रैल: मुंबई के बांद्रा के बाद अब गुजरात के सूरत में लॉकडाउन की धज्जियाँ उड़ाते हुए हजारों मजदूरों की भीड़ सड़क पर इकठ्ठा हो गई है। सड़क पर उतरे मजदूरों की मांग है की उन्हें उनके गाँव भेजा जाय। गौरतलब है कि, कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ा दिया गया है। ऐसे में अब रोटी का संघर्ष भी तेज हो गया। हालाँकि सरकार भरसक प्रयास कर रही है की लॉकडाउन के दौरान कोई भूखा न सोये।

स्थानीय पुलिस ने बताया कि प्रवासी मजदूर सूरत शहर के वराछा क्षेत्र में एकत्रित हो गए और यह मांग करते हुए सड़क पर बैठ गए कि लॉकडाउन के बावजूद उन्हें उनके मूल स्थानों को जाने की इजाजत दी जाए। मौके पर ,मौजूद एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया से कहा, ये प्रवासी मजदूर अपने मूल स्थानों को जाना चाहते हैं. हमने इन्हें बेसब्र नहीं होने के लिए कहा क्योंकि वर्तमान समय में लॉकडाउन लागू है।

गौरतलब है कि – इससे पहले मंगलवार को मुंबई के बांद्रा रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों की भीड़ इकठ्ठा हो गई थी। पुलिस ने लाठीचार्ज करके भीड़ को तितर-बितर किया।

Sponsored Articles
loading...