अमेरिका के लिए काल बना कोरोना, न्यूयॉर्क में तैनात की गई सेना

चीन के वुहान शहर से निकला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में कहर बरपा रहा है। दुनिया के हर छोटे-बड़े देश कोरोना की चपेट में आ गए हैं। खुद को सुपरपॉवर समझनें वाला अमेरिका भी कोरोना के सामने बेबस नजर आ रहा है। अमेरिका में अबतक 336,830 लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। जबकि 9,618 लोगों की इस खतरनाक महामारी ने जान ले ली।

अमेरिका में हालात बिल्कुल बेकाबू हो गये हैं। रोजाना लगभग 1000 मौतें और लगभग 10 हजार लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। कोरोना के ज्यादा मामलें न्यूयार्क से आ रहे हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए न्यूयॉर्क में अब सेना तैनात कर दी गयी है।

न्यूयॉर्क में अमेरिकी सेना को इस लिया तैनात किया गया है ताकि सोशल डिस्टेंसिंग बनी रही और लोग बेवजह घरों से बाहर न निकलें। अगर लोग घरों से बाहर नहीं निकलेंगें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करेंगें तो कोरोना का संक्रमण उतनी तेजी से नहीं बढ़ पायेगा। जितनी तेजी से इस समय बढ़ रहा है।

अमेरिका में कोरोना की वजह से इतनी मौतें हो जानें के बाद भी राष्ट्रपति ट्रम्प ने लॉकडाउन नहीं लगाया। सिर्फ ट्रैफिक नियम कड़ा करने का आदेश दिया है और सोशल डिस्टेंसिग बनाने रहने की अपील की है। वहीँ फ्लोरिडा के गवर्नर ने राष्ट्रपति ट्रम्प के विपरीत जाते हुए फ्लॉरिडा में लॉकडाउन लगा दिया है।