देशभर में कोरोना फैलाने वाले मौलाना साद के बचाव में उतरे केजरीवाल के ख़ास अमानतुल्लाह खान

नई दिल्ली, 3 अप्रैल: निजामुद्दीन तब्लीगी जमात मरकज के अध्यक्ष मौलाना शाद को एक तरफ देशभर में कोरोना फैलाने का दोषी माना जा रहा है तो वहीँ केजरीवाल के ख़ास और आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान मौलाना शाद के बचाव में उतर गए हैं, जैसे तेजाबी ताहिर हुसैन के बचाव में उतरे थे और जैसे शाहीन बाग़ वालों के साथ खड़े थे।

अमानतुल्लाह खान ने एक ट्वीट किया है जिसमे उन्होंने लिखा है कि मुख़्तार अब्बास नक़वी और आरिफ़ मुहम्मद खां जैसे दलाल बताएंगे कि मौलाना साद साहब जैसे बुज़ुर्ग क्या हैं और मरकज़ निज़ामुद्दीन में क्या होता है इन जैसे लोगों ने कोरोना को भी मुसलमान बना दिया अफ़सोस।

https://twitter.com/hudabrly/status/1245753467076923393?s=20

अमानतुल्ला खान को जबाब देते हुए डाक्टर सैयद ने लिखा है कि अरे ज़मानत ठुल्ला खान साब!कल तक पुरानी दिल्ली जामा मस्जिद के गेट no4 से गाड़ियों के टायर चुरा कर मीना बाज़ार और कबाड़ी मार्किट में बेचने और बखराइद पर बकरों की सौदेबाज़ी में 50-50 रुपये की दलाली करने वाले दलाल बताएंगे कि “साद” बुजुर्ग है या कोरोना जेहादी…मतलब!औक़ात ही भूल गए!

बता दें कि – कोरोना वायरस के खतरे को नजरअंदाज करते हुए भी मौलाना के शाद के नेतृत्व में निजामुद्दीन मरकज में देश-विदेश से हजारों मुस्लिम जुटे, मौलाना शाद का एक ऑडियो वॉयरल हुआ जिसमें वो कह रहा था की, हम लोगों को कोरोना छू नहीं पायेगा। इसके बाद उसने कहा, अगर मस्जिद में किसी की मृत्यु हो जाती है तो इससे अच्छी बात क्या है? फिलहाल मौलाना शाद फरार है और दिल्ली क्राइम ब्रांच की 8 टीमें तलाश करने में जुटी हैं।