लॉकडाउन का खुला उल्लंघन, दिल्ली-UP बॉर्डर पर इकठ्ठा हुए हजारों मजदूर, कोरोना का खतरा बढ़ा

केंद्र और राज्य सरकार के तमाम अपील के बावजूद लॉकडाउन के दौरान मजदूरों का पलायन थमने का नाम नहीं ले रहा है। उत्तर प्रदेश पुलिस मजदूरों को वापस लौटा रही है। जिसकी वजह से दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर कई हजार मजदुर इकठ्ठा हो गए हैं।

मजदूर फिलहाल वापस भी नहीं लौट रहे हैं। अब भी उन्हें उम्मीद है कि उन्हें उनके घर जाने दिया जायेगा। इनमे अधिकतर पैदल ही अपने गांव जा रहे हैं। लॉकडाउन और धारा 144 फिर भी इतने लोग एक जगह इकठ्ठा हैं जिस वजह से कोरोना संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है।

सोशल मीडिया पर लोगों का कहना है कि पलायन कर रहे मजदूरों को वहीँ पर रुकने की व्यवस्था करनी चाहिए। अगर इनकी वजह से गाँव मे कोरोना फेल गया तो बहुत दिक्कत हो जाएगी। इस तरह से लोकडाउन का कोई मतलब नही रहेगा । इनकी वजह से कई हजारो लोगो को इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाएगा ..यहाँ तक कि उनके घर वालो को खतरे में डाल देंगे?