एक साल में ही ‘वंदे भारत’ ने कमाए अपनी लागत के बराबर पैसे, राहुल गांधी ने उड़ाया था मजाक?

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली से वाराणसी के बीच चलने वाली पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत के संचालन के एक साल पूरे हो गए। एक साल में ही वन्दे भारत ने बढ़िया रिस्पॉन्स दिया है। एक साल पूरे होने पर प्रयागराज में मंगलवार को इस ट्रेन का स्वागत समारोह आयोजित किया गया। इस मौके पर रेलवे की ओर से यात्रियों को फूल और चॉकलेट भी दिए गए।

बता दें की मेक इन इंडिया के तहत बनी इस ट्रेन का संचालन पिछले साल 17 फरवरी को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से देश की राजधानी नई दिल्ली के बीच शुरू किया गया था। इस बीच यह ट्रेन पूरे साल में कभी निरस्त नहीं हुई। इस ट्रेन से रेलवे को ट्रेन की लागत के बराबर 92 करोड़ की आय भी हुई है।

इस ट्रेन की डिजाइन और निर्माण करने वाली इंटीग्रल कोच फैक्ट्री के सुधांशु मणि ने बताया था कि इसे 100 करोड़ रुपए की लागत से बनाया गया था। यानी, ट्रेन ने अब तक इसमें से 92.29 करोड़ रुपए पहले ही साल में जुटा लिए हैं।

आपको बता दें की, राहुल गाँधी ने भी इस ट्रेन को लेकर ‘मेक इन इंडिया’ का मजाक बनाया था। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने उनके बयान की आलोचना करते हुए कहा था कि भारतीय इंजीनियरों की मेहनत का मखौल न उड़ाएँ। पीएम मोदी ने भी भारतीय इंजीनियरों की मेहनत को सलाम करते हुए विपक्षी नेताओं को सलाह दी थी कि वे स्वदेशी सेमी-स्पीड ट्रेन का सम्मान करें।