शाहीन बाग़ में चल रहे हैं PFI के 5 दफ्तर, योगी की पुलिस ने PFI के 108 सदस्यों को दबोचा

LIKE फेसबुक पेज

लखनऊ, 3 फ़रवरी: उत्तर प्रदेश में पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) के 108 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। ये गिरफ्तारी पिछले चार दिनों में हुई है। PFI एक कट्टर इस्लामिक संगठन है.

अवनीश के. अवस्थी, अतिरिक्त मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश होम डिपार्टमेंट ने बताया कि इस संगठन के बारे में जानकारी इकट्ठा की जा रही है, इनके फाइनेंशियल ट्रांजेक्शन पर भी जानकारी ली जा रही है। हमारा पहला लक्ष्य इनकी पहचान करना और कार्रवाई करना है। उत्तर प्रदेश के जिन शहरों में नागरिकता क़ानून के खिलाफ प्रदर्शन हो रहे हैं उन सब के पीछे इसी संगठन का हाथ होने की आशंका है। देश के अन्य शहरों में भी PFI के लोग ही धरना प्रदर्शन करवा रहे हैं।

गौरतलब है की दिल्ली पुलिस ने हाल में जेएनयू के छात्र शरजील इमाम को गिरफ्तार किया था जिससे पूंछतांछ में पता लगा कि शरजील इमाम लगातार पीएफआई के संपर्क में था। क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया है कि नागरिकता क़ानून के खिलाफ पैसे देकर आग भड़काने वाले पीएफआई के अकेले शाहीन बाग में ही पांच दफ्तर चल रहे हैं।

शरजील इमाम 13 व 15 जनवरी को शाहीन बाग स्थित पीएफआई के कार्यालय में गया था। उसकी कॉल डिटेल से भी खुलासा हुआ है कि मंच पर पहुंचने से पहले भी उसने पीएफआई के लोगों से बातचीत की थी। शाहीन बाग़ का पूरा खर्च शायद पीएफआई ही उठा रही है और वहां से आये दिन ऐसे वीडियो सामने आ रहे हैं जिनमे कश्मीर की आजादी की बात की जा रही है। हिन्दुओं के बारे में आपत्तिजनक बयान दिए जा रहे हैं। पीएफआई ही इसके पीछे हैं वरना पांच दफ्तर अकेले शाहीन बाग़ में?