पुलवामा आतंकी हमले की पहली बरसी: मोदी ने कहा था घर में घुस कर मारूंगा..।तबाह कर दिए आतंकी अड्डे

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 14 फ़रवरी: पुलवामा आतंकी हमले की पहली बरसी आज है, पूरा देश आज पुलवामा हमलें में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि दे रहा है। आज से ठीक एक साल पहले साल 2019 के 14 फरवरी की शाम पुलवामा में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे। देश के तमाम लोग उस दिन वेलेंटाइन डे के जश्न में डूबे थे लेकिन शाम को अचानक पुलवामा हमले की खबर ने देश को हिलाकर रख दिया।

पुलवामा हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि आपने ( आतंकियों ) बहुत बड़ी गलती कर दी है और अब घर में घुसकर मारेंगे। इसके बाद 27 फरवरी को तड़के बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने जबरजस्त बमबारी कर पाकिस्तान में सनसनी मचा दी। इस एयरस्ट्राइक में जैश ए मोहम्मद के ठिकाने तबाह हो गए और कई आतंकी मारे गए। ऑपरेशन खत्म होने के तुरंत बाद सुबह 4 बजे साउथ ब्लॉक में एक बैठक भी हुई थी।

एयर सस्ट्राइक के लिए आगरा और ग्वालियर एयरबेस से लड़ाकू जहाज उड़े थे। तैयारी के समय वायुसेना अधिकारियों के कई दिन तक फोन बंद रहे और चुपचाप ये तैयार कर अचानक हमला किया गया।  भारतीय वायुसेना द्वारा की गई इस एयर स्ट्राइक में लगभग 300 आतंकी नरक लोक पहुंचे थे।

सोशल मीडिया पर आज पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा रही है। गृहमंत्री अमित शाह ने पु​लवामा हमले की बरसी पर ट्वीट कर शहीदों को श्रद्धाजंलि देते हुए लिखा है कि मैं पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देता हूं।भारत हमेशा हमारे बहादुरों और उनके परिवारों का आभारी रहेगा।