दिल्ली: दिवंगत शीला दीक्षित को कांग्रेस की हार का जिम्मेदार ठहराकर PC चाको ने दिया इस्तीफ़ा

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली, 12 फ़रवरी: दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी का एक बार फिर से सूपड़ा साफ़ हो गया है और लगातार दूसरी बार कांग्रेस खाता खोलने में नाकाम रही? दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको ने कांग्रेस की करारी हार के लिए पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत शीला दीक्षित की जिम्मेदार ठहराया है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणामों पर दिल्ली कॉन्ग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने पार्टी के शर्मनाक प्रदर्शन पर बुधवार को प्रतिक्रिया देते हुए कहा, वर्ष 2013 में ही कॉन्ग्रेस की स्थिति खराब होने लगी थी, जब शीला दीक्षित मुख्यमंत्री थीं। ऐसा इसलिए कि पार्टी का वोट बैंक आम आदमी पार्टी की ओर चला गया। चाको ने यह भी कहा कि जब तक आम आदमी पार्टी है, तब तक कॉन्ग्रेस दिल्ली में आगे नहीं बढ़ सकती है। इसी के साथ पीसी चाको ने अपने प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया।

पीसी चाको के इस बयान के बाद पार्टी में घमासान शुरू हो गया। इस बयान पर पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा ने चाको पर निशाना साधते हुए कहा, चुनावी हार के लिए दिवंगत शीला दीक्षित को जिम्मेदार ठहराना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

गौरतलब है की वरिष्ठ कांग्रेस नेता और दिल्ली की तीन बार मुख्यमंत्री रह चुकी शीला दीक्षित का 20 जुलाई 2019 को निधन हो गया था। इसके बावजूद कांग्रेस पार्टी दिल्ली चुनाव में हार का सारा दोष शिला पर मढ़ रही है।