कोरोना वायरस: चीन में फंसे पाकिस्तानी छात्र, पाक-सरकार बोली, जीना-मरना अल्लाह के हाथ में

LIKE फेसबुक पेज

नई दिल्ली: आपने शायद ही कोई ऐसी सरकार देखो होगी जो अपने नागरिकों को भगवान् या अल्लाह के भरोसे छोड़ दे लेकिन पाकिस्तान सरकार ऐसा ही कर रही है। चीन में कोरोना वायरस ने कहर बरपा रखा है, सभी देश अपने अपने नागरिकों को चीन से निकाल रहे हैं लेकिन पाकिस्तान सरकार ने कहा है की जीना मरना अल्लाह के हाथ में है इसलिए हम अपने नागरिकों को चीन से नहीं निकालेंगे।

चीन में फंसे पाकिस्तानी छात्र भारत सरकार की तारीफ कर रहे हैं, उन्हें लगता है की भारत में मोदी सरकार की तरह उनके देश की इमरान सरकार नहीं है। उन्हें लगता है कि जिस प्रकार भारत सरकार अपने नागरिकों की फिक्र करती है उस तरह से पाकिस्तान सरकार नहीं करती।

बात दरअसल ये है कि चीन में वुहान शहर में कोरोना वायरस ने अपना कहर बरपा रखा है, हर कोई डरा हुआ है क्योंकि इस वायरस के इन्फेक्शन का इलाज नहीं है, मोदी सरकार ने चीन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालना शुरू कर दिया है, विशेष प्लेन भेजकर भारतीयों को हिंदुस्तान लाया जा रहा है, जब कैम्पस में भारतीय बसें जाती हैं कर भारतीय छात्रों को उसमें बिठाकर लाती हैं तो पाकिस्तानी छात्र रोते हैं क्योंकि उनका देश कोरोना वायरस से उन्हें बचाने के लिए कोई कदम नहीं उठा रहे हैं, पाकिस्तानी मंत्री तो कह रहे हैं कि – जीना मरना अल्लाह के हाथ में है, चाहें चीन में रहो या पाकिस्तान में, मौत तो एक दिन आनी ही है।

भारत सरकार के एक्शन को देखकर पाकिस्तानी छात्र कह रहे हैं कि काश हमारे देश की सरकार भी भारत सरकार जैसी होती, काश उन्हें हमारी भी फिक्र होती। देखिये ये वीडियो जो एक पाकिस्तानी छात्र का है –